Sunday, February 17, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

चमोली के बाराहोती में एक फिर ‘ड्रैगन’ ने की घुसपैठ, 4 किलोमीटर तक आए अंदर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चमोली के बाराहोती में एक फिर ‘ड्रैगन’ ने की घुसपैठ, 4 किलोमीटर तक आए अंदर

नई दिल्ली/देहरादून। भारत और चीन के बीच भले ही कागजों पर रिश्ते बेहतर होते नजर आ रहे हों लेकिन सीमा पर ऐसा नहीं है। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि चीनी सैनिकों ने बाराहोती इलाके में पिछले महीने की 6, 14 और 15 अगस्त को भारतीय सीमा के 4 किलोमीटर अंदर आ गए थे। बताया जा रहा है कि आईटीबीपी के विरोध के बाद चीनी सैनिक और नागरिक वहां से बाहर गए थे। 

गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच हाल ही में डोकलाम विवाद भी काफी चर्चा में रहा था। वहां भी चीनी सैनिक भारतीय सीमा में घुस आए थे और अपना कब्जा जमा रहे थे। दोनों देशों के नेताओं के बीच कई स्तरों की बातचीत के बाद उस मुद्दे को शांत किया गया। अब उत्तराखंड के चमोली इलाके में स्थित बाराहोती की रिमखिम पोस्ट पर चीन की सेना लगातार घुसपैठ करती रही है। 


ये भी पढ़ें- तेलंगाना में चंद्रशेखर राव के मंसूबे को कांग्रेस ने दिया झटका, बनाया महागठबंधन

यहां बता दें कि आईटीबीपी की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि अगस्त के महीने में चीन से 3 बार भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की है। यहां तक की स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भी वह बाराहोती में 4 किलोमीटर तक अंदर आ गई थी। इंडो तिब्ब्त पुलिस के विरोध के बाद चीनी सेना और नागरिक वापस गए हैं। गौर करने वाली बात है कि दोनों देशों की सरकारें लगातार सीमा पर शांति की बातें कहती रही हैं, हालांकि जमीन पर तस्वीर कुछ और ही नजर आती है।                

Todays Beets: