Sunday, May 27, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

केदारनाथ में प्रसाद की थाली में चौलाई का लड्डू होना अनिवार्य, दुकानों में माल्टा और बुरांश का जूस नहीं रखने पर होगी कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केदारनाथ में प्रसाद की थाली में चौलाई का लड्डू होना अनिवार्य, दुकानों में माल्टा और बुरांश का जूस नहीं रखने पर होगी कार्रवाई

केदारनाथ। केदारनाथ धाम यात्रा के दौरान स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने की कवायद तेज कर दी गई है। केदारनाथ के दौरे पर गए जिलाधिकारी ने मंदिर में चढ़ाए जाने वाले प्रसाद की थाली में चौलाई के लड्डू का होना अनिवार्य करने के निर्देश दिए हैं इसके साथ ही दुकानों में माल्टा और बुरांश के जूस को रखना अनिवार्य कर दिया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि महिला स्वयं सहायता समूह के द्वारा तैयार किए जाने वाले पैकेटों में तो चौलाई के लड्डू दिखाई देते हैं लेकिन मंदिर में चढ़ाने वाली थाली से वो गायब है। इसके साथ बिना हाॅकर के चलने वाले घोड़ों और खच्चरों के मालिकों के लाईसेंस को रद्द कर दिया गया है।

गौरतलब है कि चारधाम यात्रा के दौरान स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा मिलने से राज्य के किसानों को काफी फायदा होगा। बता दें कि जिलाधिकारी ने कहा कि राज्य के विकास में व्यापारियों को भी सहयोग देना होगा। उन्होंने कहा कि स्थानीय दुकानांे में माल्टा और बुरांश का जूस नहीं रखने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

ये भी पढ़ें - मोबाइल नहीं तो वोट नहीं, 16 गांवों ने लिया थराली विधानसभा उपचुनाव के बहिष्कार का फैसला


इसके साथ ही बिना हाॅकरों के चलने वाले घोड़ों के मिलने से घोड़ा मालिकों के लाईसेंस को भी रद्द कर दिया है। डीएम ने अपनी निरीक्षण के दौरान केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का भी जायजा लिया है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से यात्रा व्यवस्था की जानकारी ली और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने घोड़ा पड़ाव के पशु चिकित्सालय में साइन बोर्ड लगाने, उरेडा को भैरव गदेरे में विद्युत व्यवस्था स्थापित करने को भी कहा है।  

Todays Beets: