Monday, February 19, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

भाजपा और वामपंथी कार्यकर्ता आपस में भिड़े, पुलिस ने जमकर लाठियां फटकारीं 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा और वामपंथी कार्यकर्ता आपस में भिड़े, पुलिस ने जमकर लाठियां फटकारीं 

देहरादून। केरल में हो रहे भाजपा कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न का असर उत्तराखंड में भी देखने को मिल रहा है। इस घटना के विरोध में भाजपा के कार्यकर्ताओं ने देहरादून में सीपीएम-सीपीआई के कार्यालय तक एक जुलूस निकाला। जुलूस के दौरान दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प बढ़ गई और मामला हाथापाई तक पहुंच गया। विवाद बढ़ता देख पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा।

घायल हुए सीपीएम नेता

गौरतलब है कि केरल में भाजपा के कार्यकर्ताओं को निशाना बनाए जाने से नाराज कार्यकर्ताओं ने देहरादून में घंटाघर से क्वालिटी चौक होते हुए सीपीएम के दफ्तर तक एक विशाल जुलूस निकाला। जुलूस में भाजपा के कई स्थानीय नेता शामिल थे। सीपीएम कार्यालय पहुंचकर भाजपा कार्यकर्ता दफ्तर में घुसने की कोशिश करने लगे जबकि दूसरी तरफ से सीपीएम के कार्यकर्ता उन्हें रोकने के लिए दम लगाते रहे। इस बीच भीड़ में से किसी ने पत्थर उछाल दिया जिससे सीपीएम के नेता शेर सिंह घायल हो गए। 

ये भी पढ़ें - बच्चों के बाल जबरन काटने से नाराज परिजनों ने की स्कूल में तोड़फोड़, शिक्षिकाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज 


पुलिस ने फटकारी लाठियां

आपको बता दें कि मामले को तूल पकड़ता देखकर पुलिस को बीच में हस्तक्षेप करना पड़ा। पुलिस ने भाजपा के कार्यकर्ताओं को तितर बितर करने के लिए जमकर लाठियां फटकारीं। मामला शांत होने पर सीपीएम के नेता ने कहा कि उनके जुलूस को पुलिस बीच में ही रोक देती है जबकि भाजपा के कार्यकर्ता दफ्तर में घुसकर तोड़फोड़ करते हैं और पुलिस चुपचाप खड़ी रहती है। नेता ने प्रशासन पर सरकार के एजेंट के रूप में काम करने का आरोप लगाया।   

 

Todays Beets: