Friday, June 22, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

कल से शुरू होगा रिस्पना की सफाई का काम, मोबाइल एप भी किया जाएगा लाॅन्च 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कल से शुरू होगा रिस्पना की सफाई का काम, मोबाइल एप भी किया जाएगा लाॅन्च 

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने नदियों की सफाई का कार्रवाई तेज कर दी है। कल यानी कि शुक्रवार से देहरादून शहर के बीच से होकर बहने वाली रिस्पना नदी की सफाई का काम शुरू किया जाएगा। इस मौके पर नदी के किनारे से कचरा हटाने और उसकी सफाई के लिए बंगलुरु से लाई गई वेस्ट मशीन लगाई जाएगी। नदी की सफाई अभियान की शुरुआत के साथ ही एक मोबाइल एप भी लॉन्च किया जाएगा। रिस्पना नदी को पुनर्जीवित करने की जिम्मेदारी ईको टास्क फोर्स को दी गई है। ईको टॉस्क फोर्स के सीओ कर्नल एचआरएस राणा ने कहा कि रिस्पना नदी में मौजूद हजारों टन कचरे को नष्ट करने में वेस्ट मशीन कारगर साबित होगी और इससे नदी को पुनर्जीवित करने में मदद मिलेगी।

टास्क फोर्स को सफाई का जिम्मा


यहां बता दें कि उत्तराखंड में नदियों की बदहाली का मुद्दा एक छात्रा ने पीएम मोदी की मन की बात कार्यक्रम में पहुंचाई थी। पीएम के निर्देश के बाद प्रदेश सरकार ने नदियों में कूड़ा डालने और गंदगी फैलाने वालों पर जुर्माना लगाने की भी बात कही गई थी। इसके बाद मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने खुद उसकी सफाई का काम शुरू भी किया था। अब सरकार ने रिस्पना की सफाई के लिए ईको टास्क फोर्स करेगी और इसकी जिम्मेदारी टास्क फोर्स के सीओ कर्नल एचआरएस राणा को सौंपी गई है।  

ये भी पढ़ें - यूओयू में 80 से ज्यादा और 30 से कम नंबर लाने वालों की काॅपियों की होगी दोबारा जांच, कुलपति स्...

Todays Beets: