Wednesday, March 27, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

सवर्ण आरक्षण पर बोले उत्तराखंड के सीएम, पीएम मोदी 21वीं सदी के अंबेडकर 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सवर्ण आरक्षण पर बोले उत्तराखंड के सीएम, पीएम मोदी 21वीं सदी के अंबेडकर 

देहरादून। केन्द्र सरकार द्वारा आर्थिक तौर पर पिछड़े सवर्ण समाज को 10 फीसदी आरक्षण देने के फैसले का ज्यादातर लोगों ने समर्थन किया। भाजपा के कई नेताओं ने पीएम मोदी की शान में कसीदे पढ़े। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने प्रधानमंत्री को 21वीं सदी का अंबेडकर बता दिया। सीएम ने कहा कि सवर्ण समाज को 10 फीसदी आरक्षण देने के फैसले से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को काफी फायदा होगा। उन्होंने कहा कि सरकार का यह ऐतिहासिक कदम है और  प्रधानमंत्री को धन्यवाद देते हुए रावत ने कहा कि यह सबका साथ, सबका विकास के लक्ष्य को साकार करने में एक कदम और है।

गौरतलब है कि मंगलवार को सरकार ने लोकसभा में आरक्षण संशोधन बिल को पास करवा लिया है। अब उसके सामने इसे राज्यसभा में पास करवाने की चुनौती होगी। हालांकि उम्मीद जताई जा रही है कि चुनाव करीब होने की वजह से विपक्ष भी उच्च सदन में सरकार का साथ दे सकता है। सरकार के फैसले का एआईएमआईएम ने इस बिल का विरोध किया है।


ये भी पढ़ें - इसरो केंद्र की सुरक्षा को खतरा, एलआईयू की खुफिया रिपोर्ट के बाद अतिक्रमण हटाने की तैयारी

यहां बता दें कि केंद्र सरकार के इस बिल पर पीएम मोदी की भाजपा नेताओं ने जमकर तारीफ की है। उत्तराखंड के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पीएम मोदी को 21वीं सदी का अंबेडकर बताते हुए कहा कि उन्होंने समाज के सभी वर्गों के गरीब के बारे में सोचा है। आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग देश भर के सामान्य वर्ग की ओर से लंबे समय से की जा रही थी। फैसले से उन्हें काफी फायदा होने वाला है। आपको बता दें कि प्रस्तावित आरक्षण अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग द्वारा प्राप्त मौजूदा 50 प्रतिशत आरक्षण से अलग है। अब कुल आरक्षण 60 प्रतिशत हो जाएगा।

Todays Beets: