Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

उत्तराखंड कांग्रेस में फिर दिखी फूट , पूर्व विधायक गणेश गोदियाल ने इंदिरा ह्रदयेश से मांगा इस्तीफा, कहा-सत्तापक्ष संग की सांठ गांठ

अंग्वाल संवाददाता
उत्तराखंड कांग्रेस में फिर दिखी फूट , पूर्व विधायक गणेश गोदियाल ने इंदिरा ह्रदयेश से मांगा इस्तीफा, कहा-सत्तापक्ष संग की सांठ गांठ

देहरादून । उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार को कई मुद्दों पर घेरने वाली कांग्रेस पिछले कुछ समय से काफी आक्रामक अंदाज में है। सरकार के कई फैसलों पर धरना-प्रदर्शन करने वाली कांग्रेस ने पार्टी को कई मुद्दों पर बैकफुट पर भी डाला है, लेकिन एक बार फिर से कांग्रेस में फूट की खबरें आ रही हैं। असल में कांग्रेस के पूर्व विधायक गणेश गोदियाल ने अपनी ही पार्टी की वरिष्ठ नेता और सदन में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश से उनके इस्तीफे की मांग कर डाली। इतना ही नहीं गोदियाल ने इंदिरा ह्रदयेश पर सत्तारूढ़ दल के साथ सांठगांठ करने का आरोप लगाया है। हालांकि ह्रदयेश ने उल्टा गोदियाल पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह इस्तीफा मांगने वाले कौन होते हैं। इस्तीफा मांगने का हक सिर्फ पार्टी अध्यक्ष को है।

बता दें कि प्रदेश में जहरीली शराब के मुद्दों समेत गन्ना किसानों के बकाए को लेकर कांग्रेस ने सरकार को आड़े हाथों लिया है। इस दौरान राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने विधानसभा के बाहर एक दिन का उपवास करने का ऐलान किया, जिसकी खबर सुनते ही कई अन्य कांग्रेसी दिग्गज उनका साथ देने के लिए आ गए, लेकिन विधानसभा की ओर बढ़ने के दौरान पुलिस वालों ने हरीश रावत और अन्य को रोका तो सभी वहीं धरने पर बैठ गए। 

इससे इतर विधानसभा के स्थगित होने पर कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह और नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश भी धरनास्थर पर कुछ विधायकों के साथ पहुंची। इस दौरान वहां मौजूद पूर्व कांग्रेसी विधायक गणेश गोदियाल ने ह्रदयेश पर गंभीर आरोप लगाते हुए उनका इस्तीफा मांग लिया। गोदियाल का कहना था कि नेता प्रतिपक्ष ने सदन के भीतर अपने काम को सही तरीके से अंजाम नहीं दिया। इस दौरान उन्होंने उन्होंने नेता प्रतिपक्ष पर सत्तापक्ष से सांठ गांठ करते हुए कांग्रेस को कमजोर बनाने का आरोप लगाया। 


जहां एक ओर गोदियाल नेता प्रतिपक्ष पर आरोप लगा रहे थे, वहीं इंदिरा ह्रदयेश ने भी गोदियाल के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि मैं आपके कहने पर कोई इस्तीफा देने नहीं जा रहीं हूं। अगर कोई मुझसे मेरा इस्तीफा मांग सकता है तो वह कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी हैं। 

 

Todays Beets: