Wednesday, January 17, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

माॅर्चरी में रखी लाश अचानक हो गई जिन्दा, लोगों ने मचाया बवाल, भेल अस्पताल प्रशासन ने दिया जांच का आश्वासन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
माॅर्चरी में रखी लाश अचानक हो गई जिन्दा, लोगों ने मचाया बवाल, भेल अस्पताल प्रशासन ने दिया जांच का आश्वासन

हरिद्वार। हरिद्वार के बीएचईएल (भेल) स्थित अस्पताल में अजीबो-गरीब घटना हुई है। यहां में रखी लाश अचानक जिंदा हो उठी। जैसे ही लाश को माॅर्चरी से बाहर निकाला गया तो उसने न सिर्फ करवट बदली बल्कि उल्टी भी की। यह देखकर वहां मौजूद सभी लोग हैरान हैं। शनिवार को जब उनके परिजन शव लेने पहुंचे तो यह देखकर डाॅक्टरों पर हत्या के आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया। उन्होंने सवाल उठाए कि मॉर्चरी में मृत व्यक्ति कैसे उल्टी कर सकता है। भेल अस्पताल के डाॅक्टर भी इस घटना से हैरान हैं। 

जिन्दा व्यक्ति को रखा माॅर्चरी में

गौरतलब है कि शुक्रवार देर रात भेल कर्मचारी कृष्ण कुमार निवासी ज्वालापुर काम करते हुए गिर गया था इसके बाद उन्हें भेल अस्पताल में लाया गया। यहां डॉक्टर ने शुरुआती जांच करने के बाद कृष्ण कुमार को मृत घोषित कर दिया। परिजनों के अनुरोध पर आए सीनियर डाॅक्टर ने भी उन्हें मृत घोषित कर दिया। बता दें कि इस दौरान डाॅक्टरों ने कृष्ण कुमार की दो बार ईसीजी की लेकिन कृष्ण कुमार के शरीर में डाॅक्टरों को उसके जीवित होने के कोई लक्षण नहीं दिखे। इसके बाद कागजी कार्यवाही पूरी होने तक शव लगभग डेढ़ घटे तक स्ट्रेचर पर रखा रहा। 


जांच का आश्वासन

यहां बता दें सभी कार्रवाई पूरी होने के बाद रात के करीब साढ़े 12 बजे घरवालों ने उसके शव को माॅर्चरी में रखवा दिया। शनिवार सुबह जब परिजन शव लेने आए तो शव ने करवट बदली हुई थी और उसने उल्टी कर रखी थी। यह देख परिजन हैरान रह गए और उन्होंने यह कहकर हंगामा खड़ा कर दिया कि जीवित कृष्ण कुमार को मरा हुआ बताकर मॉर्चरी में रखवा दिया गया। लोगों ने भी मौके पर आकर भेल अस्पताल प्रबंधन पर कृष्ण कुमार को मारने का आरोप लगाया। इसके बाद प्रभारी सीएमओ ने मौके पर पहुंचकर प्रकरण की पूरी जांच करवाने का आश्वासन दिया है।

Todays Beets: