Thursday, September 21, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

सरकार ने की अशासकीय काॅलेजों के शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की मुराद पूरी, अब मिलेगा सेवानिवृत्ति के महीने का वेतन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकार ने की अशासकीय काॅलेजों के शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की मुराद पूरी, अब मिलेगा सेवानिवृत्ति के महीने का वेतन

देहरादून। राज्य के सहायता प्राप्त अशासकीय डिग्री काॅलेजों के शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को सरकार ने बड़ी राहत दी है। उनकी वर्षों पुरानी मांग मान ली गई है। अब 60 साल पूरी कर चुके उन कार्मिकों की सेवानिवृत्ति की तारीख उस महीने की आखिरी तारीख मानी  जाएगी। सरकारी कार्मिकों की तर्ज पर इस व्यवस्था को अब इन कर्मचारियों पर भी लागू कर दिया गया है। इस संबंध में आदेश जारी कर दिया गया है।

सरकारी तर्ज पर मिलेगा फायदा

गौरतलब है कि सहायता प्राप्त अशासकीय डिग्री काॅलेजोें के शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के 60 साल की आयु पूरी करने की निर्धारित तिथि पर सेवानिवृत्त किए जाने की व्यवस्था लागू थी। इस व्यवस्था के चलते उन्हें सेवानिवृत्ति की तिथि वाले महीने का पूरा वेतन व अन्य लाभ से वंचित होना पड़ रहा था। बता दें कि राज्य सरकार द्वारा मार्च, 2010 में जारी एक आदेश में कहा गया है कि अगर किसी कर्मचारी की जन्म तिथि महीने की पहली तारीख को है तो वह पिछले महीने की आखिरी तारीख को अपनी उम्रसीमा पूरी कर लेगा। इस कारण ऐसे सरकारी सेवकों की सेवानिवृत्ति की तिथि पूर्ववर्ती महीने का अंतिम दिवस होगी। वहीं जिस सरकारी सेवक की जन्मतिथि किसी मास की पहली तारीख से अलग है तो वह उस महीने के किसी दिवस को 60 वर्ष की आयु प्राप्त करेगा, इसलिए सेवानिवृत्ति की तिथि उस महीने के अंतिम दिवस होगी।

ये भी पढ़ें - एनजीटी के मानकों पर खरी नहीं उतरी हेली सर्विस, सरकार ने सभी उड़ानों पर लगाई रोक


राज्यपाल ने दी मंजूरी

आपको बता दें कि सरकारी कार्मिकों के लिए लागू इस व्यवस्था को अब सहायताप्राप्त अशासकीय डिग्री कॉलेजों के शिक्षणोत्तर कार्मिकों के लिए भी लागू कर दिया गया है। राज्यपाल से मंजूरी के बाद उच्च शिक्षा अपर मुख्य सचिव डॉ रणवीर सिंह ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं।

 

Todays Beets: