Sunday, March 24, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

दून-मसूरी रोपवे का काम दोबारा होगा शुरू, सड़कों पर यातायात का दवाब होगा कम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दून-मसूरी रोपवे का काम दोबारा होगा शुरू, सड़कों पर यातायात का दवाब होगा कम

देहरादून। राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए दून-मसूरी रोपवे का काम अब दोबारा शुरू किया जाएगा। इसके लिए फिर से सर्वे कराया जाएगा, बता दें कि इस रोपवे का पहले एक बार सर्वे हो चुका है जिसमें पुरकुल से मसूरी लाइब्रेरी तक बनाने को सर्वे हुआ था, पुरकुल से मसूरी तक के रोपवे को दो भागों में बनाने पर जोर दिया गया था। सर्वे में प्रथम चरण में पुरकुल से हाथीपांव के बीच और इसके बाद दूसरे चरण में हाथीपांव से मसूरी लाइब्रेरी तक तैयार करने की बात कही गई थी।  

दून से मसूरी तक रोपवे

गौरतलब है कि दून-मसूरी रोपवे के लिए कई बार कंपनियों से आवेदन मांगे गए लेकिन कंपनियों ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। ऐसा कहा जा रहा था कि दो चरणों में रोपवे का निर्माण होने से पर्यटकों की दिलचस्पी इस ओर कम हो जाएगी ऐसे में नए सिरे से सर्वे किए जाने पर जोर दिया गया। अब नए सिरे से दून से सीधे मसूरी तक रोपवे तैयार किए जाने को सर्वे किए जाने के निर्देश दिए हैं।


ये भी पढ़ें - कार पार्किंग विवाद में फंसे रुड़की के मेयर, भाजपा पार्षद की पिटाई के आरोप में पुलिस ने किया गिरफ्तार

पर्यटकों के मिलेगा रोमांचक अनुभव

धनोल्टी में सुरकंडा देवी रोपवे का काम को तेजी से किया जा रहा है। यहां बता दें कि पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि रोपवे का काम तय लक्ष्य के अनुरूप चल रहा है और पूरा प्रयास किया जा रहा है कि रोपवे का लाभ श्रद्धालुओं को समय पर मिल जाए। दून से मसूरी लाइब्रेरी चौक तक रोपवे तैयार किया जाएगा। सर्वे में रुट इस तरह तय किया जाएगा जिससे दूरी कम से कम हो साथ्ज्ञ ही इस पर लागत कम आए। अगर दोनों शहरों के बीच रोपवे की सुविधा शुरू हो जाती है तो सड़कों पर से यातायात का दवाब भी कम होगा। 

Todays Beets: