Tuesday, October 23, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

इंजीनियरिंग काॅलेज की स्थापना दिवस पर बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री, ड्रोन चेहरे के पास पहुंचा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इंजीनियरिंग काॅलेज की स्थापना दिवस पर बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री, ड्रोन चेहरे के पास पहुंचा

हरिद्वार। उत्तराखंड के इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ड्रोन की चपेट में आने से बाल-बाल बच गए। बता दें कि स्थापना दिवस के मौके पर छात्र मुख्यमंत्री के सामने ड्रोन उड़ाने का प्रदर्शन कर रहे थे। उसी वक्त रिमोट पर नियंत्रण नहीं रहने के कारण सीएम तक जा पहुंचा। सीएम ने खुद को बचाते हुए चेहरा पीछा किया और सुरक्षा में तैनात स्थानीय अभिसूचना इकाई के दारोगा ने ड्रोन दूसरी तरफ धकेला। बता दें कि मुख्यमंत्री को बचाने के क्रम में दारोगा घायल हो गए।

चेहरे के करीब पहुंचा ड्रोन

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत रविवार को कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के स्थापना दिवस कार्यक्रम में शामिल होने हरिद्वार पहुंचे थे। इसी दौरान इंजीनियरिंग छात्रों की एक टीम ने सीएम के सामने ड्रोन उड़ाने का प्रदर्शन कर रहे थे, अचानक छात्र का नियंत्रण रिमोट पर गड़बड़ा गया और ड्रोन तेजी के साथ उड़ता हुआ मंच की तरफ जा पहुंचा। ड्रोन बिल्कुल मुख्यमंत्री के चेहरे के करीब जा पहुंचा। ड्रोन पर पहले से नजरें होने के कारण मुख्यमंत्री ने तुरंत अपना चेहरा पीछे किया। उनकी सुरक्षा में तैनात दारोगा शीशपाल रौथाण भी फौरन हरकत में आकर हाथ से दूसरी तरफ धकेला। 

ये भी पढ़ें - विशिष्ट बीटीसी शिक्षक का मुद्दा और गरमाया, गैरसैंण विधानसभा के घेराव के लिए लेंगे सामूहिक अवकाश


चिकित्सकों ने की मरहम पट्टी

आपको बता दें कि ड्रोन को अपने हाथों से पीछे धकलने में घायल हो गए और उनके हाथ से खून बहने लगा। सीएम के काफिले में मौजूद चिकित्सकों की टीम ने दारोगा की मरहम पट्टी की है। 

Todays Beets: