Sunday, May 27, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

इंजीनियरिंग काॅलेज की स्थापना दिवस पर बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री, ड्रोन चेहरे के पास पहुंचा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इंजीनियरिंग काॅलेज की स्थापना दिवस पर बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री, ड्रोन चेहरे के पास पहुंचा

हरिद्वार। उत्तराखंड के इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ड्रोन की चपेट में आने से बाल-बाल बच गए। बता दें कि स्थापना दिवस के मौके पर छात्र मुख्यमंत्री के सामने ड्रोन उड़ाने का प्रदर्शन कर रहे थे। उसी वक्त रिमोट पर नियंत्रण नहीं रहने के कारण सीएम तक जा पहुंचा। सीएम ने खुद को बचाते हुए चेहरा पीछा किया और सुरक्षा में तैनात स्थानीय अभिसूचना इकाई के दारोगा ने ड्रोन दूसरी तरफ धकेला। बता दें कि मुख्यमंत्री को बचाने के क्रम में दारोगा घायल हो गए।

चेहरे के करीब पहुंचा ड्रोन

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत रविवार को कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के स्थापना दिवस कार्यक्रम में शामिल होने हरिद्वार पहुंचे थे। इसी दौरान इंजीनियरिंग छात्रों की एक टीम ने सीएम के सामने ड्रोन उड़ाने का प्रदर्शन कर रहे थे, अचानक छात्र का नियंत्रण रिमोट पर गड़बड़ा गया और ड्रोन तेजी के साथ उड़ता हुआ मंच की तरफ जा पहुंचा। ड्रोन बिल्कुल मुख्यमंत्री के चेहरे के करीब जा पहुंचा। ड्रोन पर पहले से नजरें होने के कारण मुख्यमंत्री ने तुरंत अपना चेहरा पीछे किया। उनकी सुरक्षा में तैनात दारोगा शीशपाल रौथाण भी फौरन हरकत में आकर हाथ से दूसरी तरफ धकेला। 

ये भी पढ़ें - विशिष्ट बीटीसी शिक्षक का मुद्दा और गरमाया, गैरसैंण विधानसभा के घेराव के लिए लेंगे सामूहिक अवकाश


चिकित्सकों ने की मरहम पट्टी

आपको बता दें कि ड्रोन को अपने हाथों से पीछे धकलने में घायल हो गए और उनके हाथ से खून बहने लगा। सीएम के काफिले में मौजूद चिकित्सकों की टीम ने दारोगा की मरहम पट्टी की है। 

Todays Beets: