Wednesday, March 27, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

प्रदेश सरकार बेटियों को कराएगी इंजीनियरिंग और मेडिकल का क्रैश कोर्स, सुपर-100 कोचिंग की हुई शुरुआत

अंग्वाल न्यूज डेस्क
प्रदेश सरकार बेटियों को कराएगी इंजीनियरिंग और मेडिकल का क्रैश कोर्स, सुपर-100 कोचिंग की हुई शुरुआत

देहरादून। उत्तराखंड में भी ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ योजना के तहत काम शुरू कर दिया गया है। मंगलवार को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने ननूरखेड़ा स्थित राजीव गांधी नवोदय विद्यालय में सुपर-100 कोचिंग का शुभारंभ किया है। इस कोचिंग में मेडिकल और इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए 100 दिनों का  क्रैश कोर्स कराया जाएगा। प्रोग्राम के तहत 12वीं कक्षा की छात्राओं को कोचिंग में प्रवेश दिया जाएगा। इस कोचिंग में राज्य के हर ब्लाॅक के हाईस्कूल में टाॅप करने वाली छात्रा को प्रवेश दिया जाएगा। 

गौरतलब है कि शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि सभी छात्राओं के भोजन से लेकर रहने तक की व्यवस्था ननूरखेड़ा स्थित राजीव गांधी नवोदय विद्यालय में कर दिया गया है। इसके साथ ही उन्होंने छात्राओं की पढ़ाई के लिए फैकल्टी की भी व्यवस्था कर दी गई है। शिक्षा मंत्री ने छात्राओं को अपना मोबाइल नंबर देते हुए कहा कि किसी भी तरह की दिक्कत होने पर वे अपना अभिभावक समझकर उन्हें फोन कर सकती हैं। 

ये भी पढ़ें- जैव विविधता का कारोबार करने वाली कंपनियों को देना होगा मुनाफा में हिस्सा, वर्ना होगी कड़ी कार्रवाई

यहां बता दें कि शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, बेटी बढ़ाओ की दिशा में काम कर रही है। बहुत दिन बाद ऐसा दिखा जब शिक्षा विभाग के अधिकारी विभाग को आगे ले जाने का काम कर रहे हैं। छात्राओं से मंत्री ने कहा कि मंदिर का वो पत्थर बनो जिससे मूर्ति बनती है।


गौर करने वाली बात है कि सचिव शिक्षा डॉ. भूपिंदर कौर औलख ने कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से छात्राओं को आगे लाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं और उन्हें सुपर-100 कोचिंग का लाभ उठाना चाहिए। 

 

Todays Beets: