Thursday, April 26, 2018

Breaking News

   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||   रेलवे की 90 हजार नौकरियों के आवेदन की आज लास्ट डेट, दो करोड़ 80 लाख कर चुके हैं अप्लाई     ||   कांग्रेस में बड़ा बदलाव: जनार्दन द्विवेदी की छुट्टी, गहलोत बने नए AICC महासचिव     ||   भारत ने चीन की तिब्बत सीमा पर भेजे और सैनिक, गश्त भी बढ़ाई     ||   अब कॉल सेंटर की नौकरियों पर नजर, अमेरिकी सांसद ने पेश किया बिल     ||   ब्लूमबर्ग मीडिया का दावा, 2019 छोड़िए 2029 तक पीएम रहेंगे नरेंद्र मोदी     ||   फेसबुक को डेटा लीक मामले से लगा तगड़ा झटका, 35 अरब डॉलर का नुकसान     ||

सरकार प्रदेश की खूबसूरती को बनाएगी कमाई का जरिया, पूरा राज्य फिल्म सिटी के तौर पर होगा विकसित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकार प्रदेश की खूबसूरती को बनाएगी कमाई का जरिया, पूरा राज्य फिल्म सिटी के तौर पर होगा विकसित

देहरादून। राज्य सरकार ने प्रदेश की खूबसूरती को कमाई का जरिया बनाने में जुटी है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य के किसी एक हिस्से को फिल्म डेस्टिनेशन बनाने के बजाय पूरे राज्य को ही फिल्म सिटी की तर्ज पर विकसित किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले सरकार ने प्रदेश में फिल्मों की शूटिंग शुल्क को खत्म करने का फैसला लिया था। सरकार का मानना है कि इससे स्थानीय युवाओं को रोजगार का मौका मिलेगा। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने एक कार्यक्रम में कहा कि राज्य को हैदराबाद, नोएडा और मुंबई की फिल्म सिटी की तर्ज पर विकसित करने का काम शुरू कर दिया है। सीएम ने कहा है ऐसा होने से यहां के लोगों को रोजगार तो मिलेगा ही साथ ही राज्य की आय में भी इजाफा होगा। यहां बता दें कि प्रदेश सरकार ने राज्य में सिनेमा को विस्तार देने के लिए शूटिंग शुल्क को खत्म कर दिया है। 

ये भी पढ़ें - एमबीबीएस और पीजी की फीस को लेकर काॅलेज और सरकार में तनातनी, 16 अप्रैल को होगा फैसला


यहां बता दें कि उत्तराखंड होटल एवं रेस्टोरेंट एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री के लिए सम्मान समारोह आयोजित किया था। एसोसिएशन ने बार लाइसेंस की फीस में वृद्धि वापस लेने के फैसले पर उन्हें सम्मान दिया। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ऋषिकेश के आईडीपीएल में योगग्राम विकसित करने की योजना है। यहां 5 फाइव स्टार होटल के साथ योगा सेंटर बनाया जाएगा। ऋषिकेश और हरिद्वार को केबल कार से जोड़ने की भी योजना है। दून होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय गुप्ता ने कहा कि राज्य सरकार ने होटल और रेस्टोरेंट संचालकों की समस्या को गंभीरता से लिया और खुद मुख्यमंत्री ने अपने निर्णय को 24 घंटे में बदलकर पर्यटन विकास की सोच का परिचय दिया।  

Todays Beets: