Friday, March 22, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

सरकार प्रदेश की खूबसूरती को बनाएगी कमाई का जरिया, पूरा राज्य फिल्म सिटी के तौर पर होगा विकसित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकार प्रदेश की खूबसूरती को बनाएगी कमाई का जरिया, पूरा राज्य फिल्म सिटी के तौर पर होगा विकसित

देहरादून। राज्य सरकार ने प्रदेश की खूबसूरती को कमाई का जरिया बनाने में जुटी है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य के किसी एक हिस्से को फिल्म डेस्टिनेशन बनाने के बजाय पूरे राज्य को ही फिल्म सिटी की तर्ज पर विकसित किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले सरकार ने प्रदेश में फिल्मों की शूटिंग शुल्क को खत्म करने का फैसला लिया था। सरकार का मानना है कि इससे स्थानीय युवाओं को रोजगार का मौका मिलेगा। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने एक कार्यक्रम में कहा कि राज्य को हैदराबाद, नोएडा और मुंबई की फिल्म सिटी की तर्ज पर विकसित करने का काम शुरू कर दिया है। सीएम ने कहा है ऐसा होने से यहां के लोगों को रोजगार तो मिलेगा ही साथ ही राज्य की आय में भी इजाफा होगा। यहां बता दें कि प्रदेश सरकार ने राज्य में सिनेमा को विस्तार देने के लिए शूटिंग शुल्क को खत्म कर दिया है। 

ये भी पढ़ें - एमबीबीएस और पीजी की फीस को लेकर काॅलेज और सरकार में तनातनी, 16 अप्रैल को होगा फैसला


यहां बता दें कि उत्तराखंड होटल एवं रेस्टोरेंट एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री के लिए सम्मान समारोह आयोजित किया था। एसोसिएशन ने बार लाइसेंस की फीस में वृद्धि वापस लेने के फैसले पर उन्हें सम्मान दिया। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ऋषिकेश के आईडीपीएल में योगग्राम विकसित करने की योजना है। यहां 5 फाइव स्टार होटल के साथ योगा सेंटर बनाया जाएगा। ऋषिकेश और हरिद्वार को केबल कार से जोड़ने की भी योजना है। दून होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय गुप्ता ने कहा कि राज्य सरकार ने होटल और रेस्टोरेंट संचालकों की समस्या को गंभीरता से लिया और खुद मुख्यमंत्री ने अपने निर्णय को 24 घंटे में बदलकर पर्यटन विकास की सोच का परिचय दिया।  

Todays Beets: