Thursday, October 19, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

सरकारी अस्पतालों में राज्य के सभी लोगों की होगी मुफ्त जांच, दिखाना होगा आधार कार्ड 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकारी अस्पतालों में राज्य के सभी लोगों की होगी मुफ्त जांच, दिखाना होगा आधार कार्ड 

देहरादून। राज्य सरकार ने प्रदेश के लोगों को बड़ी सौगात दी है। अब उत्तराखंड के सभी प्रमुख सरकारी अस्पतालों में मरीजों के पैथौलाॅजी और रेडियोलाॅजी से जुड़ी सभी जांच मुफ्त में होंगे। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिए हैं। बता दें कि अभी तक मुफ्त की जांच की सुविधा उन्हीं लोगों को मिल रहा था जो मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के दायरे में आ रहे थे। मुफ्त जांच की सुविधा लेने के लिए मरीजों को आधार कार्ड दिखाना होगा जबकि दूसरे राज्यों के मरीजों से फीस लिया जाएगा।

एनएचएम के तहत मिलेगा बजट

गौरतलब है कि राज्य के मरीजों को मुफ्त डायग्नोसिक योजना के तहत अक्तूबर 2016 से मुफ्त इलाज की सुविधा देने का निर्णय लिया गया था लेकिन इस योजना का लाभ अभी तक केवल 36 हजार लोगों को मिल रहा था, जो मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभार्थी हैं।  अब राज्य सरकार ने कहा है कि यह सुविधा राज्य के हर व्यक्ति को मिलेगा। मुफ्त जांच की सुविधा के लिए अस्पतालों को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत बजट मुहैया कराया जाएगा। 

ये भी पढ़ें - प्रवक्ता पद पर तैनात अतिथि शिक्षकों को हाईकोर्ट ने दी राहत, मार्च 2018 तक व्यवस्था बनाए रखने ...


बढ़ाई जाएंगी सुविधाएं

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में दिए गए निर्देश के बाद एनएचएम की ओर से प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। बता दें कि इस प्रस्ताव के तहत फिलहाल 22 प्रमुख अस्पतालों में खून की जांच के लिए ऑटो एनालाईजर मशीनें खरीदने का निर्णय लिया गया है जबकि रेडियोलॉजी जांच के लिए अस्पतालों में एक्सरे, सीटी स्कैन एवं एमआरआई की सुविधा को भी बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। 

 

Todays Beets: