Saturday, March 23, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

सरकार ने हजारों कर्मचारियों को दी बड़ी राहत, तबादला सीमा को घटाकर 10 फीसदी किया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकार ने हजारों कर्मचारियों को दी बड़ी राहत, तबादला सीमा को घटाकर 10 फीसदी किया

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने अनिवार्य तबादले की जद में आने वाले कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। प्रदेश सरकार ने मौजूदा तबादला सत्र में इसकी सीमा घटाकर 10 फीसदी कर दिया है। बताया जा रहा है कि विभागों द्वारा तबादला एक्ट को लागू करने में आ रही दिक्कतों के मद्देनजर सरकार की तरफ से यह फैसला लिया गया है। मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने शुक्रवार को उक्त छूट देने के संबंध में आदेश जारी किए। 

गौरतलब है कि प्रदेश में नया तबादला एक्ट इसी सत्र 2018-19 से प्रभावी हो चुका है। नए एक्ट के अनुसार तबादलों की सूची अंतिम दौर में पहुंच चुकी है। इसके लिए विभागों के अंदर गठित की गई स्थानांतरण समिति 5 जून तक अपनी संस्तुति देगी। इनके आधार पर 10 जून तक तबादला आदेश जारी होने के साथ ही उन्हें क्रियान्वित भी किया जाएगा।

ये भी पढ़ें - टिहरी महोत्सव का हुआ रंगारंग आगाज, 14 राज्यों के कलाकारों ने पेश किया सांस्कृतिक कार्यक्रम


यहां बता दें कि नए एक्ट के अनुसार सुगम में मौजूदा तैनाती स्थल पर 4 साल और सुगम इलाके में कुल 10 साल या उससे अधिक साल पूरा कर चुके कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से दुर्गम में तबादला किया जाएगा। सुगम से दुर्गम और दुर्गम से सुगम में स्थानांतरण खाली पदों के भरने तक किए जाएंगे। तबादला एक्ट को लागू करने में विभागों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस एक्ट के तहत बड़ी संख्या में कर्मचारी इसकी जद में आ रहे थे। विभागों से सरकार से एक्ट के प्रावधानों में छूट देने की मांग की थी जिसे सरकार ने स्वीकार करते हुए तबादला की सीमा को घटाकर 10 फीसदी कर दिया है। 

 

Todays Beets: