Thursday, August 16, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

अब सरकारी दफ्तरों में लेट लतीफी नहीं चलेगी, सरकार बायोमैट्रिक उपस्थिति करेगी अनिवार्य

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब सरकारी दफ्तरों में लेट लतीफी नहीं चलेगी, सरकार बायोमैट्रिक उपस्थिति करेगी अनिवार्य

देहरादून। अब सुस्त और देर से दफ्तर आने वाले सरकारी सावधान हो जाएं। सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों के लिए बायोमैट्रिक उपस्थिति अनिवार्य करने जा रही है। इसके साथ ही समय पर कार्यालय नहीं आने वाले कर्मचारियों को नोटिस दिया जाएगा। सचिव समिति की बैठक में यह फैसला लिया गया है। इसके साथ ही स्कूलों में भी शिक्षकों और कर्मचारियों की बॉयोमैट्रिक्स हाजिरी अनिवार्य करने का फैसला लिया गया है। समिति ने विद्यालयी शिक्षा के सभी स्कूलों और कार्यालयों में बॉयोमैट्रिक्स अनिवार्य रूप से लागू करने का निर्णय लिया।  

सचिवालय कार्मिकों को नोटिस 

यहां बता दें कि सचिवालय में बॉयोमैट्रिक्स मशीन लगने के बाद भी कर्मचारियों की देर से आने की आदत में कोई सुधार नहीं हुआ है। ऐसे कर्मचारियों पर अब शिकंजा कसने की तैयारी कर उनकी पहचान शुरू कर दी गई है जिनकी उपस्थिति का समय शार्ट हो रहा है। सचिवालय प्रशासन ने इन कर्मियों को नोटिस देकर चेतावनी देने के निर्देश दिए हैं। 


ये भी पढ़ें - घाटी में दहशत फैलाने आए तीन आतंकियों को सुरक्षा बलों ने 'हूरों' के पास भेजा,बड़गाम मुठभेड़ मे...

मुख्य सचिव से लें सीख 

आपको बता दें कि सचिवालय के अफसर और कर्मचारी मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह से भी कोई सीख नहीं ले पा रहे हैं। उत्पल कुमार सिंह ने जब से राज्य के मुख्य सचिव का पद संभाला है वे सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर कार्यालय पहुंच जाते हैं जबकि कर्मचारी 9 बजकर 45 मिनट पर आते हैं। वहीं रात को 9 बजे भी मुख्य सचिव अपने दफ्तर में मौजूद रहते हैं।  

Todays Beets: