Sunday, May 27, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

वित्तीय अनियमितताओं में घिरे 29 नगर निकायों की होगी जांच, सरकार ने दिए आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
वित्तीय अनियमितताओं में घिरे 29 नगर निकायों की होगी जांच, सरकार ने दिए आदेश

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने अपनी स्वच्छ और भ्रष्टाचार पर जीरो टाॅलरेंस की नीति पर पूरी तरह से अडिग है। इसके तहत वित्तीय अनियमितता बरतने वाले राज्य के 29 नगर निकायों की जांच के आदेश दिए हैं। बता दें कि इन निकायों की वर्ष 2011 से लेकर वर्ष 2016 के दौरान कर गतिविधियों की जांच होगी। निदेशक-लेखा परीक्षा (ऑडिट) की रिपोर्ट में इन निकायों में बड़े पैमाने पर घपलों का खुलासा हुआ है। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक के निर्देश पर अपर सचिव-शहरी विकास विनोद कुमार ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं। गौरतलब है कि मामले की जांच के लिए अपर सचिव-शहरी विकास विनोद कुमार ने 10 जिलों के डीएम को आदेश जारी किए हैं। इन सभी जिलों में एडीएम वित्त, आॅडिट रिपोर्ट मंे पकड़े गए घपलों की जांच करेंगे। बता दें कि जांच के लिए 15 दिनों का वक्त दिया गया है। अपर सचिव ने बताया कि दोषी पाए जाने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सभी जिलाधिकारियों को ऑडिट रिपोर्ट भेजी जा रही है।

इनकी होगी जांच

नगर निगम (1) हरिद्वार। 

नगर पालिका (10) पिथौरागढ़, धारचूला, जोशीमठ, देवप्रयाग, नरेंद्रनगर, ऋषिकेश, उत्तरकाशी, बड़कोट, श्रीनगर, कोटद्वार।

नगर पंचायत (18) भीमताल, डीडीहाट, द्वाराहाट, नंदप्रयाग, पोखरी, गौचर, कीर्तिनगर, मुनि की रेती, लंढौरा, चिन्यालीसौड़, पुरोला, गंगोत्री, दिनेशपुर, केलाखेड़ा, सुल्तानपुर, महुवाखेड़ा गंज, कालाढुंगी, महुवाडाबरा।

ये भी पढ़ें - पद की अनदेखी करना केन्द्रीय विश्वविद्यालय के कुलसचिव को पड़ा महंगा, पद से हटाए गए

ये हैं आरोप

समय पर काम पूरा न करने वाले ठेकेदारों से वसूली नहीं 

बिजली के उपकरण मनमाने दाम पर खरीदे

गुणवत्ताहीन काम करने वाली निर्माण एजेंसियों को भी भुगतान


कार्मिकों को अग्रिम स्वीकृत वेतन की वसूली नहीं की गई

व्यापार कर, आयकर, सेस का पैसा राजकोष में जमा नहीं कराया

कर्मचारियों की ग्रेड पे का मनमाने ढंग से निर्धारण

ईपीएफ खातों में नियोक्ता के अंशदान की कटौती नहीं की

विभिन्न प्रकार के टैक्स की वसूलियां नहीं की

दुकान किराया नहीं वसूला, क्रेट दीवार का ज्यादा भुगतान

होटलों के मनमाने ढंग से टैक्स निर्धारण कर सरकार को चूना

तहबाजारी के ठेकों में नियमों का उल्लंघन

 

Todays Beets: