Sunday, January 21, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

राज्य के बेसहारा बच्चों को सरकार देगी सहारा, सरकारी सेवाओं में मिलेगा आरक्षण

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य के बेसहारा बच्चों को सरकार देगी सहारा, सरकारी सेवाओं में मिलेगा आरक्षण

देहरादून। उत्तराखंड में अनाथ बच्चों के अच्छे दिन आने वाले हैं। सरकार उनके लिए सरकारी सेवाओं में आरक्षण की व्यवस्था करने जा रही है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने खुद इसका ऐलान किया है। इसके साथ राज्य में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए महिला स्वयं सहायता समूह के लिए सस्ते ऋण की तरह नई योजना शुरू की जाएगी।   

बेसहारा बच्चों को सहारा

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने ये बातें अपने आवास पर उत्तराखंड महिला आयोग के सेमीनार में कही हैं। उन्होंने कहा कि कई बार परिस्थितियां बच्चों को अनाथ बना देती हैं तो कई बार यह भी देखा जाता है कि मां-बाप ही नवजात बच्चों को छोड़ देते हैं और ऐसे बच्चों में लड़कियों की संख्या ज्यादा होती है। उन्होंने महाराष्ट्र सरकार का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां बेसहारा बच्चों को बड़े होने पर सरकारी सेवाओं में आरक्षण देने की व्यवस्था की है। 

ये भी पढ़ें -उत्तराखंड की प्रियंका चौधरी पहुंची सीनियर नेशनल बाॅक्सिंग चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में, कांस्...


महिलाओं के लिए योजना

अब प्रदेश सरकार भी यहां इस तरह की व्यवस्था शुरू करने पर विचार कर रही है। इसके लिए कानून के जानकारों से सलाह ली गई है और जल्द ही कोई ठोस निर्णय लिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में महिला सशक्तिकरण के लिए  सरकार महिला समूहों को बढ़ावा देगी। जिस तरह किसानों के लिए एक लाख का लोन 2 फीसदी पर देने की योजना लागू की गई है उसी तरह महिला समूहों के लिए भी ऐसी योजना जल्द लाई जाएगी। 

 

Todays Beets: