Monday, January 21, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

राज्य के 140 निजी स्कूलों को हाईकोर्ट के आदेश का उल्लंघन पड़ा महंगा, अब होगी कार्रवाई 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य के 140 निजी स्कूलों को हाईकोर्ट के आदेश का उल्लंघन पड़ा महंगा, अब होगी कार्रवाई 

देहरादून। उत्तराखंड के करीब 140 प्राईवेट स्कूलों पर कार्रवाई की तलवार लटक गई है। हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद ये स्कूल अभिभावकों से महंगी किताबें खरीदवा रहे हैं। अब इन स्कूलों को दी गई राज्य स्तरीय एनओसी को वापस लेने के लिए  नोटिस जारी किया जा रहा है। राज्य सरकार इन स्कूलों द्वारा आदेश के उल्लंघन की रिपोर्ट हाईकोर्ट में रखेगी। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने विभागीय समीक्षा करते हुए स्कूलों पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। 

गौरतलब है कि उत्तराखंड में निजी स्कूलों के द्वारा महंगी किताबें खरीदवाने की शिकायत लगातार शिक्षा विभाग को की जा रही थी। इन शिकायतों की जांच के लिए गठित टीम की रिपोर्ट के आधार पर ही करीब 140 स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। यहां बता दें कि अभिभावकों की शिकायत के बाद करीब 226 निजी स्कूलों में जांच की गई थी। शिक्षा विभाग के 60 अफसरों ने देहरादून के 77, हरिद्वार के 53, नैनीताल के 77 और यूएसनगर के 19 स्कूलों की जांच की और पाया कि इनमें 70 फीसदी में हाईकोर्ट के आदेशों का उल्लंघन किया जा रहा है। किताबें भी महंगी खरीदवाई जा रही हैं और उनका ब्योरा भी सार्वजनिक नहीं किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें - अगले महीने होने वाले इंवेस्टर्स समिट की तैयारियां जोरों पर, उद्यमियों की पहल का पीएम लेंगे जायजा 


गौर करने वाली बात है कि शिक्षा मंत्री ने महापुरुषों की जयंती-पुण्य तिथि पर नियमित कार्यक्रम, हर स्कूल में वार्षिकोत्सव और डायट में ट्रेनी की संख्या के अनुसार योग्य प्रशिक्षकों की नियुक्ति के निर्देश भी दिए। शिक्षा मंत्री ने 10 और उससे कम छात्रों वाले स्कूलों की जांच रिपोर्ट में बरती जा रही लापरवाही को लेकर भी अपनी नाराजगी जताई है और जल्द कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।  

Todays Beets: