Sunday, October 21, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

चंपावत में बैंक के गार्ड ने कैशियर-चपरासी की गोली मार की हत्या, गार्ड गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
 चंपावत में बैंक के गार्ड ने कैशियर-चपरासी की गोली मार की हत्या, गार्ड गिरफ्तार

देहरादून। उत्तराखंड के चंपावत जिले के लोहाखान इलाके में एक बड़ी घटना हो गई है इसमें सहकारी बैंक के एक सुरक्षा गार्ड ने बैंक के कैशियर और चपरासी को गोली मार दी है। इस घटना में दोनों की मौत मौके पर ही हो गई है। बैंक में गोली चलने से वहां पूरी तरह से अफरा-तफरी का माहौल है। फिलहाल इस बात का पता नहीं चल पाया है कि गार्ड ने कैशियर और चपरासी को गोली क्यों मारी? पुलिस ने आरोपी बैंक गार्ड को घटना के 2 घंटे बाद उसके गांव मानर से गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है कि पिथौरागढ़ जिले के सहकारी बैंक में कार्य करने वाले तल्ला मन्नार निवासी दिनेश बोरा ने कैशियर चोमेल बल्सो निवासी ललित बिष्ट (35) पुत्र प्रहलाद सिंह एवं चपरासी राजेश वर्मा पुत्र इंद्र लाल वर्मा निवासी तल्लीहाट की गोली मार कर हत्या कर दी। इस घटना को अंजाम देने के बाद गार्ड मौके से फरार हो गया है। घटना के बाद कैशियर का शव बैंक के अंदर और कर्मचारी का शव बैंक से 100 मीटर दूरी पर पड़ा हुआ था। गोली चलने की आवाज सुनते ही पूरे बैंक और आसपास दहशत का माहौल है।


ये भी पढ़ें - राज्य सरकार पर 'हरदा' का तंज, कहा- सीएम तो अच्छे पर सरकार अच्छी नहीं

यहां बता दें कि मृतकों के शवों को पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर पोस्टमाॅर्टम के लिए भेज दिया है। बैंक कर्मचारियों के साथ स्थानीय लोगों ने भी गार्ड की गिरफ्तारी की मांग की है।  घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर एसडीएम पाटी निर्मला बिष्ट व विधायक पूरन फर्त्याल, एसपी धीरेन्द्र गुंज्याल पहुंच गए हैं। एडीएम हेमंत वर्मा के नेतृत्व में बनीं पुलिस और प्रशासन की टीम ने हत्या के आरोपी बैंक गार्ड को घटना के 2 घंटे बाद उसके गांव मानर से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद उसे चम्पावत ले जाया गया है।

Todays Beets: