Wednesday, October 17, 2018

Breaking News

   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||   सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ मामले में सीबीआई जांच की अर्जी को खारिज किया    ||   मध्यप्रदेश सरकार ने पांच नए सूचना आयुक्त चुने, राज्यपाल को भेजी सिफारिश     ||   बिहार: ASI संग शराब बेच रहा था थानेदार, अरेस्ट     ||

स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराने के बाद विभाग का यू टर्न, संविदाकर्मियों को हटाने का फैसला वापस लिया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराने के बाद विभाग का यू टर्न, संविदाकर्मियों को हटाने का फैसला वापस लिया

देहरादून। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने संविदा पर काम करने वाले कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। प्रदेश के अस्पतालों की व्यवस्था चरमराने के बाद विभाग की ओर से यह फैसला लिया गया है। बता दें कि पिछले दिनों शासन की अनुमति के बिना ही संविदा पर काम कर रहे कर्मचारियों को हटा दिया गया था और 1 अगस्त से उनसे काम न लेने के निर्देश दिए गए थे। राज्य के स्वास्थ्य सचिव के निर्देश के बाद स्वास्थ्य महानिदेशक ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं। 

गौरतलब है कि राज्य के अस्पतालों मंे पहले से ही मेडिकल स्टाफ की भारी कमी है। ऐसे में सरकारी अस्पतालों में संविदा पर हजारों कर्मचारी काम कर रहे हैं। पिछले दिनों शासन की अनुमति के बिना स्वास्थ्य महानिदेशालय के निर्देश पर स्वास्थ्य अधिकारियों ने संविदा पर काम करने वालों को हटा दिया। ऐसे में राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराने लगी। 

ये भी पढ़ें - हल्द्वानी के राजकीय पाॅलीटेक्निक काॅलेज के प्रिंसीपल का वेतन रोका गया, इमारत तैयार नहीं करने ...

यहां बता दें कि बारिश का मौसम होने और मरीजों की बढ़ती तादाद के मद्देनजर फिलहाल इन संविदाकर्मियों को हटाने का निर्णय वापस ले लिया गया है। राज्य के स्वास्थ्य सचिव नितेष झा के निर्देश पर स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. टीसी पंत ने यह आदेश जारी किए गए हैं। 


गौर करने वाली बात है कि अस्पतालों से हटाए गए संविदा कर्मचारियों के काम बंद कर देने से कई जगह अव्यवस्था पैदा हो गई है। कई जिलों के सीएमओ के द्वारा स्वास्थ्य महानिदेशक को इस बारे में जानकारी देने के बाद संविदाकर्मियों को फिलहाल नहीं हटाने की निर्णय लिया गया है। शासन से इन संविदाकर्मियों के बारे दिशानिर्देश मांगे गए हैं इसके बाद ही इनके बारे में कोई फैसला लिया जाएगा। 

   

Todays Beets: