Saturday, February 23, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

मौसम का मिजाज कर सकता है वीकेंड का मजा किरकिरा, 72 घंटों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मौसम का मिजाज कर सकता है वीकेंड का मजा किरकिरा, 72 घंटों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी

देहरादून। उत्तराखंड के लोगों को सप्ताह के अंत में भी मौसम के तल्ख मिजाज से निजात नहीं मिलने वाली है। मौसम विभाग ने शनिवार को अगले 72 घंटों के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। इसके साथ ही कई जगहों पर बादल फटने की भी संभावना जताई गई है। बता दें कि पिछले कई दिनों से प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में मूसलाधार बारिश हो रही है। शुक्रवार से ही देहरादून में हो रही तेज बारिश के कारण सड़कों पर तालाब का नजारा दिखने लगे। गाड़ियों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया। ऐसे में मौसम विभाग की नई चेतावनी ने लोगों की मुसीबतों में और इजाफा कर दिया है। 

गौरतलब है कि लगातार हो रही तेज बारिश के चलते कई जिलों में संपर्क रास्ते बंद हो गए हैं। प्रशासन और एसडीआरएफ की टीम बंद सड़कों को खोलने में जुटी हुई है लेकिन बारिश के कारण उन्हें काम करने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यहां बता दें कि लगातार हो रही बारिश के कारण दून में बहने वाली रिस्पना और बिंदाल नदियां पूरे उफान पर आ गई हैं।  वहीं कई क्षेत्रों में पेयजल लाइन भी बह गई हैं। बारिश को देखते हुए नदी किनारे बसी बस्तियों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। 

ये भी पढ़ें - राज्य के स्कूलों में शिक्षकों की समस्या होगी दूर, अगले महीने तैनात होंगे 1500 एलटी शिक्षक


यहां बता दें कि राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश के चलते नदियों को पार करने वाली छोटी पुलिया के बह जाने से स्कूली छात्रों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सैंकड़ों गांवों का संपर्क जिला मुख्यालय से पूरी तरह से कट चुका है जिससे लोगों की परेशानियों में बेतहाशा इजाफा हो गया है। ऐसे में मौसम विभाग द्वारा शनिवार को भारी बारिश की चेतावनी ने आम लोगों की मुसीबतों को और बढ़ा दिया है। 

मौसम के तल्ख तेवरों को देखते हुए राज्य सरकार की ओर से एनडीआरएफ और एसडीआरएफ को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, लोक निर्माण विभाग और सीमा सड़क संगठन को भी हालात के अनुसार तैयार रहने को कहा गया है। शासन ने जिला प्रशासन को निर्देश दिए है कि पर्यटकों को उच्च हिमालयी क्षेत्रों में न भेजा जाए।

Todays Beets: