Wednesday, January 23, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

उत्तराखंड में मौसम का कहर जारी, कैम्प्टी फाॅल में सैलाब आने से दुकानों को भारी नुकसान, प्रशासन ने रास्ते किए बंद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड में मौसम का कहर जारी, कैम्प्टी फाॅल में सैलाब आने से दुकानों को भारी नुकसान, प्रशासन ने रास्ते किए बंद

देहरादून। उत्तराखंड के कई इलाकों में मौसम का कहर जारी है। पौड़ी जिले के कलुण गांव में भारी बारिश के बाद गदेरे में आए तेज बहाव की चपेट में आने से 2 मकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गए। इसके साथ ही कई मवेशियों के भी बह जाने की खबर है। ताजा खबरों के अनुसार मसूरी के कैम्पटी फाॅल में पानी का तेज बहाव आने से आसपास की दुकानों में पानी भर गया है। पुलिसकर्मियों ने वहां घूमने आए पर्यटकों को सुरक्षित बाहर निकाला है। पर्यटकों और स्थानीय  लोगों की सुरक्षा के मद्देनजर कैम्पटी फाॅल की ओर जाने वाले रास्ते को बंद कर दिया गया है। 

गौरतलब है कि प्रदेश के कई हिस्सों मंे भारी बारिश का दौर जारी है। पौड़ी से लेकर टिहरी तक भारी बारिश की तबाही के निशान देखे जा सकते है। पौड़ी के कलुण गांव में गदेरे में आए तेज बहाव की चपेट में आने से 2 मकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गए और बड़ी संख्या में मवेशी पानी के साथ बह गए। उपजिलाधिकारी और तहसीलदार को घटनास्थल पर भेजा गया है और राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। पहाड़ों की रानी मसूरी में कुदरत का कहर जारी है। मशहूर कैम्प्टी फाॅल में पानी का सैलाब आने से दुकानों को काफी नुकसान पहुंचा है। घूमने गए प्र्यटकों को पुलिसकर्मियों ने वहां से सुरक्षित बाहर निकाला है। इसके साथ ही सुरक्षा की दृष्टिकोण से कैम्प्टिी फाॅल का रास्ता बंद कर दिया गया है।  

ये भी पढ़ें - क्लीनिकल इश्टैब्लिशमेंट एक्ट में बदलाव न होने से प्राईवेट डाॅक्टर हुए नाराज, दी 15 सितंबर से ...


यहां बता दें कि भारी बारिश के रुद्रप्रयाग में अलखनंदा नदी पर पूरे उफान पर है। इसकी वजह से लोगों की परेशानियों में और इजाफा हो गया है। वहीं टिहरी जिले में पहाड़ों से लगातार हो रहे भूस्खलन के चलते कई गांवों में दहशत का माहौल फैल गया है। भारी बारिश के बाद टिहरी-घनसाली मार्ग बंद हो गया है। वहीं दूसरी ओर गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे भी मलबे के कारण बंद पड़ा है। उम्मीद की जा रही है कि इसे दोपहर बाद यात्रियों के लिए खोल दिया जाएगा।   

Todays Beets: