Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

फिलहाल नहीं होंगे सहकारी समितियों के चुनाव, हाईकोर्ट ने 30 जुलाई तक लगाई अंतरिम रोक

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फिलहाल नहीं होंगे सहकारी समितियों के चुनाव, हाईकोर्ट ने 30 जुलाई तक लगाई अंतरिम रोक

नैनीताल। उत्तराखंड में सहकारी समितियों की चुनाव प्रक्रिया पर हाईकोर्ट ने 30 जुलाई तक अंतरिम रोक लगा दी है। न्यायमूर्ति लोकपाल सिंह की एकलपीठ ने ऊधमसिंह नगर के रहने वाले एक शख्स के द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए प्रदेश सरकार से 2 सप्ताह के अंदर इस मामले में जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए हैं। बता दें कि ऊधमसिंह नगर निवासी राजेंद्र सिंह ने अपनी याचिका में सहकारी समिति के चुनाव में वार्डों का सही निर्धारण नहीं होने और ओबीसी उम्मीदवार के लिए एक भी सीट आरक्षित नहीं रखने का मामला उठाया था।

गौरतलब है कि राजेन्द्र सिंह ने अपनी याचिका में कहा कि सहकारी समितियों के चुनाव में वार्डों का सही निर्धारण नहीं किया गया है। एक वार्ड के कार्यक्षेत्र को दूसरे वार्ड में दिखा दिया गया है वहीं एक भी सीट ओबीसी के लिए आरक्षित नहीं की गई है।  वार्ड निर्धारण को लेकर की गई आपत्तियों की कोई सुनवाई नहीं की गई है और इनका निस्तारण भी नहीं किया गया। एकलपीठ ने मामले में सुनवाई के बाद प्रदेश में चल रही बहुद्देश्यीय सहकारी समितियों की चुनाव प्रक्रिया पर 30 जुलाई तक अंतरिम रोक लगा दी है।

ये भी पढ़ें- जलप्रलय की स्थिति झेल रहे उत्तराखंड के लिए 24 घंटे भारी, कुमाऊं और गढ़वाल दोनों मंडलों में भार...


यहां बता दें कि उत्तराखंड में करीब 1500 सहकारी समितियों में चुनाव होने वाले हैं। 759 पैक्स के लिए नामांकन भरने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी थी। सहकारी समितियों के चुनाव का पहला चरण 22 और 23 जुलाई को पूरा होना था। 

Todays Beets: