Monday, May 21, 2018

Breaking News

   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||

अब राज्य में होमगार्ड बतौर ट्रेडमैन भर्ती होंगे- त्रिवेन्द्र सिंह रावत

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब राज्य में होमगार्ड बतौर ट्रेडमैन भर्ती होंगे- त्रिवेन्द्र सिंह रावत

देहरादून। राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कानून व्यवस्था को सुचारू बनाने में होमगार्ड्स के योगदान को काफी अहम बताया है। मुख्यमंत्री ने बताया कि इन्हें बतौर ट्रेडमैन भर्ती करने की मांग पर जल्द ही विचार किया जाएगा। इसके साथ ही शहरों में कानून व्यवस्था को और चुस्त दुरुस्त करने के लिए इनकी संख्या को और बढ़ाया जा सकता है। बता दें कि सीएम ने होमगार्ड की स्थापना दिवस के मौके पर ये बातें कहीं हैं। 

हर मौके पर तैनात

यहां बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने होमगार्ड जवानों कां संबोधित करते हुए कहा कि पूरे देश में सुरक्षित प्रदेशों की श्रेणी में उत्तराखंड दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। प्रदेश के यहां तक पहुंचाने में होमगार्ड्स का काफी अहम योगदान है। अब इसे पहले नंबर पर लाने के लिए सभी को मिलकर काम करना होगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि होमगार्ड के जवानों ने हर मोर्चे पर अपनी जिम्मेदारियां निभाई हैं फिर चाहे केदारनाथ जैसी आपदाएं हों या चुनाव ड्यूटियां। 

ये भी पढ़ें - फर्जी दस्तावेजों के आधार पर भर्ती हुए फाॅरेस्ट गार्डों पर तलवार, शासन ने मांगी सूची


सहायता राशि के चेक बांटे

गौर करने वाल बात है कि खाकी वर्दी, सिर पर साफा और एक साथ कदमताल करते होमगार्ड के जवान जब मैदान में परेड कर रहे थे तो उन्हें देख हर कोई रोमांचित नजर आया। इस परेड के दौरान होमगार्ड के कमांडो दस्ते, फायर ब्रिगेड और दंगा नियंत्रक वाहनों ने भी सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर शहादत देने वाले दो होमगार्ड की पत्नियों को 5-5 लाख रुपये का चेक भी दिया। 

Todays Beets: