Saturday, December 15, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

हल्द्वानी के सेंट्रल अस्पताल के मालिकों पर आयकर विभाग का छापा, कर्मचारियों में हड़कंप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हल्द्वानी के सेंट्रल अस्पताल के मालिकों पर आयकर विभाग का छापा, कर्मचारियों में हड़कंप

हल्द्वानी। आयकर दस्तावेजों में गलत जानकारी का खुलासा होने के बाद विभाग ने हल्द्वानी के प्रमुख सेंट्रल अस्पताल के मालिक के दून और हल्द्वानी स्थिति घरों पर छापेमारी की गई है। आयकर विभाग द्वारा की जा रही इस कार्रवाई से अस्पताल कर्मियों में हड़कंप मचा हुआ है। बताया जा रहा है कि अस्पताल के मालिक ने आयकर विभाग को गलत जानकारी दी है।

घरों पर छापा

गौरतलब है कि सेंट्रल अस्पताल हल्द्वानी की गिनती प्रमुख अस्पतालों में की जाती है। बता दें कि आयकर विभाग ने सेंट्रल हॉस्पिटल के डॉक्टर संजय जुयाल के आवास के साथ उनके पार्टनर उपेंद्र गुप्ता के पालम सिटी स्थित आवास पर भी इनकम टैक्स की टीम ने छापा मारा है। एक अन्य पार्टनर सुरेंद्र भटियानी व रमेश शर्मा के घर पर भी आईटी की टीम पहुंची है।

ये भी पढ़ें - बिहार क्रिकेट टीम को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, बीसीसीआई को रणजी मैचों में हिस्सा लेने के दि...

आय-व्यय की गलत जानकारी


आपको बता दें कि आयकर विभाग के छापे से अस्पताल के कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है। आयकर विभाग का कहना है कि अस्पताल ने अपने ओपीडी के मरीजों के बारे में गलत जानकारी दी है। इसके साथ ही अस्पताल ने अपने आय और व्यय के बारे में भी गलत जानकारी दी इसी वजह से विभाग के द्वारा छापेमारी की गई है। खबरों के अनुसार सेंट्रल हॉस्पिटल के सभी पार्टनर ने इनकम टैक्स रिटर्न में जो जानकारियां दी है वह हकीकत से मेल नहीं खा रही हैं।

संचालक से नहीं हुआ संपर्क

गौरतलब है कि विभागीय सर्वे में इस बात का पता चला है कि अस्पताल ने अपने यहां ओपीडी में आने वाले मरीजों की संख्या के बारे में गलत जानकारी दी है। इसके अलावा अपनी आय के बारे में गलत जानकारी दी गई है। गड़बड़ी पाए जाने के बाद टीम दस्तावेजों की जांच की जा रही है। हाॅस्पिटल के संचालक डाॅक्टर संजय जुयाल से संपर्क करने की कई कोशिशों के बाद भी उनका कोई जवाब नहीं आया। 

Todays Beets: