Wednesday, January 17, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

साहसिक खेलों के शौकीनों को बड़ा झटका, औली में होने वाली स्कीइंग चैम्पियनशिप रद्द

अंग्वाल न्यूज डेस्क
साहसिक खेलों के शौकीनों को बड़ा झटका, औली में होने वाली स्कीइंग चैम्पियनशिप रद्द

देहरादून। साहसिक खेल और रोमांच के शौकीनों को एक बड़ा झटका लगा है। 15 जनवरी से औली में होने वाले विंटर गेम्स को उचित मात्रा में बर्फ न गिरने की वजह से रद्द कर दिया गया है। विंटर गेम्स फेडरेशन आॅफ इंडिया ने इंटरनेशनल स्कीइंग चैम्पियनशिप (एफआईएस रेस) को टाल दी है। अब इस पर 16 फरवरी के बाद इस पर कोई निर्णय लिया जाएगा। बता दें कि औली में 15 से 21 जनवरी तक एफआईएस रेस होनी थी। सरकार की तरफ से इसकी सारी तैयारियां भी कर ली गई थी।

स्कीइंग के अनुकूल नहीं परिस्थिति

गौरतलब है कि औली में अनुकूल परिस्थितियां न मिलने के चलते 15 जनवरी से होने वाली इंटरनेशनल स्कीइंग चैंपियनशिप (एफआईएस रेस) टाल दी गई है। विंटर गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने औली की मौजूदा स्थितियों को स्कीइंग के अनुकूल नहीं पाने के बाद आयोजन को 16 फरवरी तक टालने का फैसला लिया है। बता दें कि औली में विंटर गेम्स के आयोजन के लिए सरकार ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी लेकिन आयोजन की तैयारियों और मौसम की परिस्थितियों का जायजा लेने के लिए विंटर गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के तकनीकी विशेषज्ञों की टीम ने दौरा किया था। टीम ने मौसम की परिस्थितियों को आयोजन के अनुकूल नहीं माना है।

ये भी पढ़ें - उत्तराखंड से रोपवे के जरिए जुड़ेंगे हिमाचल और जम्मू कश्मीर, पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा


औली में ग्लोबल वाॅर्मिंग का असर

आपको बता दें कि फेडरेशन के अध्यक्ष कर्नल जेएस ढिल्लन ने राज्य सरकार को बताया कि ग्लोबल वार्मिंग की वजह से कम बर्फबारी हुई है और इसी वजह से आयोजन को टाला जा रहा है। बता दें कि औली में 15 जनवरी से 21 जनवरी तक इंटरनेशनल स्कीइंग चैम्पियनशिप का आयोजन किया जाना था। अब इस पर 16 फरवरी को कोई निर्णय लिया जाएगा।  औली में बर्फ जमने और स्नो मेकिंग मशीन से बर्फ बनाने के लिए न्यूनतम तापमान माइनस चार डिग्री से कम चाहिए था। बर्फ बनाने के लिए कम से कम 15 से 20 घंटे का समय चाहिए था, लेकिन यह महज दो से चार घंटे ही मिल पा रहा था। ऐसे में जो बर्फ बन भी रही थी, वो टिक नहीं पा रही थी।

 

Todays Beets: