Thursday, April 26, 2018

Breaking News

   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||   रेलवे की 90 हजार नौकरियों के आवेदन की आज लास्ट डेट, दो करोड़ 80 लाख कर चुके हैं अप्लाई     ||   कांग्रेस में बड़ा बदलाव: जनार्दन द्विवेदी की छुट्टी, गहलोत बने नए AICC महासचिव     ||   भारत ने चीन की तिब्बत सीमा पर भेजे और सैनिक, गश्त भी बढ़ाई     ||   अब कॉल सेंटर की नौकरियों पर नजर, अमेरिकी सांसद ने पेश किया बिल     ||   ब्लूमबर्ग मीडिया का दावा, 2019 छोड़िए 2029 तक पीएम रहेंगे नरेंद्र मोदी     ||   फेसबुक को डेटा लीक मामले से लगा तगड़ा झटका, 35 अरब डॉलर का नुकसान     ||

एक और उत्तराखंडी को मिली अहम जिम्मेदारी, केआर नौटियाल बने तटरक्षक बल के महानिरीक्षक 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एक और उत्तराखंडी को मिली अहम जिम्मेदारी, केआर नौटियाल बने तटरक्षक बल के महानिरीक्षक 

देहरादून। उत्तराखंड के सैन्य अधिकारियों के नेतृत्व कौशल का लोहा केन्द्र ने भी माना है यही वजह है कि उन्हें बड़े पदों पर तैनात कर अहम जिम्मेदारी देने का सिलसिला जारी है। उत्तराखंड मूल के केआर नौटियाल को भारतीय तटरक्षक बल  (पूर्वी कमांड) का महानिरीक्षक नियुक्त किया गया है। बता दें कि इससे पहले भी देश के प्रमुख सैन्य पदों पर उत्तराखंड के अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। 

गौरतलब है कि भारतीय सेना के प्रमुख जनरल विपिन रावत, देश के रक्षा सलाहकार अजित डोभाल, आईबी के प्रमुख से लेकर प्रदेश के लोगों की एक लंबी फेहरिस्त है जिन्हें देश की अहम जिम्मेदारी दी गई है। बता दें कि केआर नौटियाल जौनसार बावर इलाके से ताल्लुक रखते हैं और अपने इलाके के दूसरे ऐसे अधिकारी हैं जो इस रैंक पर पहुंचे हैं। 

ये भी पढ़ें - एनसीईआरटी किताबों को लेकर स्कूलों की मनमानी के खिलाफ कंट्रोल रूम को मिली सैकड़ों शिकायतें, जां...


यहां बता दें कि केआर नौटियाल को 1992 में तटरक्षक पदक और कुछ सालों के बाद राष्ट्रपति से तटरक्षक मेडल भी मिल चुका है। बड़ी बात यह है कि उन्होंने मद्रास विश्वविद्यालय से रक्षा एवं युद्धनीति में स्नातकोत्तर, मानव संसाधन प्रबंधन में व्यवसाय प्रशासन और एनजीओ मैनेजमेंट में डिप्लोमा के अलावा आपदा प्रबंधन एवं पत्रकारिता तथा जनसंचार में स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त की है। नौटियाल ने पोतों एवं तटों की अनेकों महत्वपूर्ण नियुक्तियों को संभाला है। केआर नौटियाल की पत्नी सुनीता नौटियाल हैं, उनके दो बेटे हैं। बेटे दिल्ली और चेन्नई में बहुराष्ट्रीय कंपनी के साथ काम कर रहे हैं। नौटियाल ग्राम हाजा जौनसार (देहरादून) के निवासी हैं। वह अपने पैतृक क्षेत्र से ऐसे दूसरे फ्लैग अधिकारी हैं, जो तीन स्टार रैंक तक पहुंचे हैं। 

 

Todays Beets: