Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

मौसम के तल्ख मिजाज ने बढ़ाई उत्तराखंड के लोगों की मुसीबतें, ऋषिकेश में भूस्खलन से लगा जाम 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मौसम के तल्ख मिजाज ने बढ़ाई उत्तराखंड के लोगों की मुसीबतें, ऋषिकेश में भूस्खलन से लगा जाम 

देहरादून। उत्तराखंड में भारी बारिश और भूस्खलन ने आमलोगों के साथ तीर्थयात्रियों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। ऋषिकेश और जोशीमठ मंे पहाड़ों से लगातर गिर रहे मलबे की वजह से ऋषिकेश-बद्रीनाथ हाईवे के दोनों ओर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई है। बता दें कि मौसम विभाग ने राज्य के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। अब यह बारिश लोगों के लिए मुसीबत बनती जा रही है। चमोली के जोशीमठ में भारी बारिश के चलते नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है ऐसे में नदियों को पारकर अपनी रोजमर्रा के कामों को पूरा करने वालों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। स्थानीय लोगों को बल्लियों के सहारे नदी पार करना पड़ रहा है जिससे उनकी जान को भी भारी खतरा बना हुआ है। 

ये भी पढ़ें - अधिकारों की लड़ाई में ‘आप’ को मिला शिवसेना का साथ, कहा- चुनी हुई सरकार को काम न करने देना अन्याय

गौरतलब है कि पिछले दिनों पिथौरागढ़, हल्द्वानी, मसूरी और चमोली में भारी बारिश के चलते जबर्दस्त भूस्खलन हुआ था। पिथौरागढ़ में भारी बारिश के बाद पहाड़ों से आए मलबे के लोगों के घरों और दुकानों में घुस जाने से भी काफी नुकसान हुआ था। वहीं हेमकुंड साहिब के रास्ते में भी भूस्खलन होने से तीर्थयात्रियों की परेशानियां बढ़ गई हैं। 


यहां बता दें कि उत्तराखंड सरकार ने भारी बारिश की चेतावनी के बाद सभी संबंधित अधिकारियों को अलर्ट पर रहने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही आपदा की सूचना देने के लिए टोल फ्री नंबर भी जारी किए हैं।   

Todays Beets: