Tuesday, August 14, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

उत्तराकाशी और चमोली में भूस्खलन का सिलसिला जारी, गंगोत्री हाईवे बंद 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराकाशी और चमोली में भूस्खलन का सिलसिला जारी, गंगोत्री हाईवे बंद 

देहरादून। उत्तराखंड के लोगों की मुसीबतें कम होती नजर नहीं आ रही हैं। लगातार हो रही तेज बारिश के चलते पहाड़ों से मलबा गिरने का सिलसिला जारी है। उत्तरकाशी और चमोली जिले में पहाड़ों से भारी मात्रा में मलबा सड़कों पर गिरने से सड़कों का संपर्क पूरी तरह से कट गया है। उत्तरकाशी में पहाड़ से मलबा गिरने से गंगोत्री हाईवे पूरी तरह से बंद हो गया है। प्रशासन ने राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया है। बता दें कि मौसम विभाग ने अभी 3 और दिनों तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

गौरतलब है कि प्रदेश में लगातार कई दिनों से तेज बारिश का सिलसिला जारी है। उत्तरकाशी और चमोली के साथ हल्द्वानी में भी तेज बारिश से सभी नदियां और नाले उफान पर हैं। हल्द्वानी में सड़कों पर पानी का तेज बहाव के बीच सुरक्षा की परवाह किए बगैर लोग उसे पार कर रहे हैं। 

ये भी पढ़ें -सरकारी लापरवाही पर हाईकोर्ट नाराज, कहा- क्यों न सारे बाघों और हाथियों को गुजरात के नेशनल पार्...


यहां बता दें कि चमोली में पहाड़ों से मलबा गिरने से कई रास्तों का संपर्क पूरी तरह से कट गया है। प्रशासन की ओर से राहत और बचाव कार्य शुरू किया है लेकिन भारी बारिश के चलते उन्हें भी काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। लोगों की मुसीबतों को मौसम विभाग की चेतावनी ने और बढ़ा दिया है। मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 3 दिनों तक राज्य में भारी से भारी बारिश हो सकती है। 

गौर करने वाली बात है कि सरकार की ओर से सभी प्रशासनिक अधिकारी और आपदा प्रबंधन टीम को पूरी तरह से अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम लगातार राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई है। 

Todays Beets: