Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

काॅमनवेल्थ गेम्स में मनीष के हाथों लगी निराशा, अब एशियन गेम्स पर नजर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
काॅमनवेल्थ गेम्स में मनीष के हाथों लगी निराशा, अब एशियन गेम्स पर नजर

देहरादून। आॅस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें काॅमनवेल्थ गेम्स में पदक जीतने की उम्मीद से गए उत्तराखंड के एथलीट मनीष रावत के हाथ निराशा लगी है। 20 किलोमीटर पैदल वाॅक रेस में मनीष छठे स्थान पर रहे। अब अपने इस प्रदर्शन को सबक के तौर पर लेते हुए उनकी नजर एशियन गेम्स पर है।

मनीष के मुताबिक खेल में उतरा-चढ़ाव होते रहते हैं और उनका लक्ष्य अब एशियन गेम्स है। 20 किलोमीटर वाॅक रेस में हिस्सा लेने गए ओलंपियन मनीष रावत ने छठा स्थान प्राप्त किया है। इस रेस को पूरा करने में उन्होंने 1 घंटे 22 मिनट 22 सेकेंड का समय लिया। 


ये भी पढ़ें - एनएचएम के तहत नौकरी करने वाली महिलाओं को पदोन्नती से पहले करवाना होगा गर्भ जांच

बता दें कि मूल रूप से चमोली के सागर गांव के रहने वाले मनीष सिंह रावत उत्तराखंड पुलिस में इंस्पेक्टर के पद पर तैनात हैं। मनीष के कोच अनूप बिष्ट ने बताया कि मनीष से देश को मेडल की उम्मीद थी लेकिन यह उनका पहला कॉमनवेल्थ गेम्स था। कोच ने मनीष के लिए इसे सबक बताते हुए कहा कि आने वाले गेम्स में इससे तैयारी करने में और मजबूती मिलेगी। 

Todays Beets: