Monday, July 23, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

काॅमनवेल्थ गेम्स में मनीष के हाथों लगी निराशा, अब एशियन गेम्स पर नजर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
काॅमनवेल्थ गेम्स में मनीष के हाथों लगी निराशा, अब एशियन गेम्स पर नजर

देहरादून। आॅस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें काॅमनवेल्थ गेम्स में पदक जीतने की उम्मीद से गए उत्तराखंड के एथलीट मनीष रावत के हाथ निराशा लगी है। 20 किलोमीटर पैदल वाॅक रेस में मनीष छठे स्थान पर रहे। अब अपने इस प्रदर्शन को सबक के तौर पर लेते हुए उनकी नजर एशियन गेम्स पर है।

मनीष के मुताबिक खेल में उतरा-चढ़ाव होते रहते हैं और उनका लक्ष्य अब एशियन गेम्स है। 20 किलोमीटर वाॅक रेस में हिस्सा लेने गए ओलंपियन मनीष रावत ने छठा स्थान प्राप्त किया है। इस रेस को पूरा करने में उन्होंने 1 घंटे 22 मिनट 22 सेकेंड का समय लिया। 


ये भी पढ़ें - एनएचएम के तहत नौकरी करने वाली महिलाओं को पदोन्नती से पहले करवाना होगा गर्भ जांच

बता दें कि मूल रूप से चमोली के सागर गांव के रहने वाले मनीष सिंह रावत उत्तराखंड पुलिस में इंस्पेक्टर के पद पर तैनात हैं। मनीष के कोच अनूप बिष्ट ने बताया कि मनीष से देश को मेडल की उम्मीद थी लेकिन यह उनका पहला कॉमनवेल्थ गेम्स था। कोच ने मनीष के लिए इसे सबक बताते हुए कहा कि आने वाले गेम्स में इससे तैयारी करने में और मजबूती मिलेगी। 

Todays Beets: