Friday, November 24, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं के बिगड़ने के आसार, एमसीआई ने दून मेडिकल काॅलेज में प्रवेश पर रोक लगाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं के बिगड़ने के आसार, एमसीआई ने दून मेडिकल काॅलेज में प्रवेश पर रोक लगाई

देहरादून। मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई)ने उत्तराखंड सरकार को एक बड़ा झटका दिया है। एमसीआई ने दून मेडिकल कॉलेज में तीसरे वर्ष के प्रवेश पर रोक लगा दी है और इसकी सूचना अपनी वेबसाइट पर भी अपलोड कर दी है। बता दें कि दून मेडिकल काॅलेज में पहले से ही फैकल्टी की भारी कमी है। एमसीआई के निरीक्षण में इसमें बड़ी खामियां पाई गई थी।

फैकल्टी की भारी कमी

गौरतलब है कि देहरादून मेडिकल काॅलेज में पहले से ही दो बैच चल रहे हैं और तीसरे बैच का अगले साल अगस्त में प्रवेश होना है लेकिन सितंबर में एमसीआई के दौरे में 14 खामियां पाईं गई थी। इन्हें आधार बनाते हुए तीसरे साल के एडमिशन पर रोक लगा दी है। इस कदम से राज्य सरकार के सामने मुश्किल खड़ी हो गई है। बता दें कि दून मेडिकल कॉलेज में वैसे ही फैकल्टी 25 फीसदी और रेजीडेंट डॉक्टर 14 फीसदी कम हैं।

ये भी पढ़ें - शिक्षकों की भर्ती में फर्जीवाड़े पर लगेगी रोक, अगले साल से टीईटी-डीएलएड की परीक्षाएं होंगी आॅनलाइन


स्वास्थ्य सेवा खराब हो सकती हैं

आपको बता दें कि इससे पहले सेना ने भी श्रीनगर मेडिकल काॅलेज को अपनी निगरानी में लेने से मना कर सरकार को एक झटका दिया है। दून मेडिकल काॅलेज में एमबीबीएस की 150 सीटें हैं। दो बैचों के छात्रों को प्रवेश मिल चुका है लेकिन तीसरे वर्ष में प्रवेश पर रोक से स्वास्थ्य सेवा के बिगड़ने की संभावना बढ़ गईं हैं।  

Todays Beets: