Saturday, March 23, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

टनकपुर की मेघा राष्ट्रीय स्तर पर चुनी जाने वाली पहली महिला भारोत्तोलक, खेलो इंडिया खेलो में दिखाएगी अपना दम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टनकपुर की मेघा राष्ट्रीय स्तर पर चुनी जाने वाली पहली महिला भारोत्तोलक, खेलो इंडिया खेलो में दिखाएगी अपना दम

देहरादून। उत्तराखंड की बेटियों ने भी न सिर्फ राज्य बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर भी अपने हुनर का जलवा दिखाया है। अब इसमें टनकपुर की रहने वाली मेघा का नाम भी जुड़ गया है। एक छोटे किसान की बेटी मेघा जल्द ही खेलो इंडिया खेलो के वेटलिफ्टिंग चैम्प्यिनशिप में दिखाई देंगी। सुविधाओं के अभाव के बावजूद अपने जुनून और जज्बे की वजह से मेघा ने राज्य ओलंपिक में चैंपियन बनी। इसके बाद ही उसका चयन खेलो इंडिया खेलो के तहत होने वाली राष्ट्रीय भारोत्तोलन चैंपियनशिप के लिए हुआ है। 

गौरतलब है कि खेलो इंडिया में चयनित होने वाली मेघा राज्य की पहली महिला भारोत्तोलक है। स्पोर्ट्स स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय वेटलिफ्टर कोच राजीव चौधरी से नियमित प्रशिक्षण लेती हैं। बता दें कि मेघा और उसके भाई हरीश ने कई स्तरों पर अपने भारोत्तोलन की कला का प्रदर्शन कर चुके हैं। साल 2017 में काशीपुर जिला स्तर पर हुई प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता था इसके बाद राज्य स्तर पर होने वाली प्रतियोगिता में भी स्वर्ण पदक जीता था। 

ये भी पढ़ें - गायब हुए डाॅक्टरों के गारंटरों से वसूली जाएगी बाॅन्ड की रकम, नोटिस भेजने की तैयारी शुरू


यहां बता दें कि मेघा ने अपने हुनर और जुनून के बल पर जिला और राज्य दोनों ही स्तरों पर अपने हुनर का लोहा मनवा चुकी हैं। ऐसे में अब देखना यह है कि खेलो इंडिया खेलो जैसी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में क्या कमाल करती हैं। गौर करने वाली बात है कि वर्ष 2018 फरवरी विशाखापत्तनम में आयोजित राष्ट्रीय वेटलिफ्टिंग में हिस्सा लिया था लेकिन जीत मेघा के हाथ से फिसल गई थी। नवंबर 2018 रुद्रपुर स्पोर्ट्स स्टेडियम में राज्य ओलंपिक खेलों में मेघा ने बेहतर प्रदर्शन कर स्वर्ण पदक जीतकर प्रदेश का नाम गौरवान्वित कर दिया था।  मेघा ने बताया कि खेलो इंडिया के लिए रोजाना करीब 6 घंटे मेहनत कर रही हैं। 

पुणे में 8 से 15 जनवरी के बीच खेलो इंडिया खेलो का आयोजन होगा। इसमें काशीपुर स्पोर्ट्स स्टेडियम के सात पहलवानों का भारोत्तोलन में चयन किया गया है। 21 साल आयु के 67 किलोभार वर्ग में गुलाम नवी, 73 किग्रा में मुकेश सिंह, 89 किग्रा में रामकरन प्रजापति, 109 किग्रा में अभिषेक, 109 से अधिक में अनुराग का चयन किया गया है। वहीं, 27 आयु पुरुष वर्ग में 81 किग्रा में दीपक चंद्र जोशी और 17 आयु महिला वर्ग में 81 किग्रा से अधिक भार वर्ग में मेघा चंद चयनित हुई हैं।  

Todays Beets: