Tuesday, October 23, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

उत्तराखंड में विधायकों की हो गई बल्ले-बल्ले, विधायक निधि 1 करोड़ से पौने 4 करोड़ हुई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड में विधायकों की हो गई बल्ले-बल्ले, विधायक निधि 1 करोड़ से पौने 4 करोड़ हुई

देहरादून। उत्तराखंड में विधायकों की हो बल्ले-बल्ले हो गई है। राज्य सरकार ने उनकी विधायक निधि को 1 करोड़ रुपये से बढ़ाकर पौने 4 करोड़ रुपये कर दिया है। गुरुवार को हुई कैबिनेट बैठक में इसका फैसला लिया गया। इसके साथ ही सितारगंज की चीनी मिल को बंद करने का फैसला भी लिया गया। सरकार ने कहा है कि इस मिल के 500 कर्मचारियों को वीआरएस दिया जाएगा। 

विधायक निधि में इजाफा

गौरतलब है के कैबिनेट की बैठक में सरकार के सामने 18 विभिन्न मुद्दे आए थे जिसमें से 16 को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी। कैबिनेट में कोई भी अनुपूरक बजट का प्रस्ताव नहीं आया। प्रदेश सरकार ने विधायकों कर विधायक निधि को 1 करोड़ से बढ़ाकर 3 करोड़ 75 लाख रुपये सालाना कर दी है। बता दें कि मुख्यमंत्री ने पिछले विधानसभा सत्र के दौरान विधायक निधि को 2.75 करोड़ से और बढ़ाने की घोषणा की थी। 

ये भी पढ़ें - उत्तराखंड में चलने वाले मदरसों में बड़े पैमाने पर अनियमितता, मदरसा बोर्ड की तरफ से जांच शुरू 

शराब होगी जाएगी महंगी

कैबिनेट में कई मुद्दों को मुजूरी देने  के साथ सरकार ने आबकारी एक्ट की धारा-28 को संशोधित कर दिया है। सरकार ने राज्य में शराब पर वन टाइम उत्पादन शुल्क को बढ़ा दिया है। वर्तमान में ह्विस्की-200, बीयर-60 और स्प्रिट, वाइन, रम और ब्रांडी का शुल्क 600 रुपये है। अब इसमें 300 से 1500 रुपये तक की वृद्धि कर दी गई है। बता दें कि यह वृद्धि यह अगले सत्र से लागू होंगे।  

इन फैसलों पर लगी मुहर

कौशल विकास और सेवायोजन विभाग का गठन

मदरसा परिषद नियमावली में संशोधन, अब केवल अध्यक्ष पद रहेगा।


लोक सेवा आयोग का 2016-17 का प्रत्यावेदन मंजूर

गढ़वाल और कुमाऊं में स्थापित होंगे पुलिस शिकायत प्राधिकरण के कार्यालय, रिटायर जज की अध्यक्षता में दो सदस्यीय ढांचा होगा

औली इंटरनेशनल स्कीइंग के लिए 12 करोड़ का बजट मंजूर

उत्तराखंड आधार विधेयक को मंजूरी

सराय एक्ट में बदलाव, होटलों का रजिस्ट्रेशन पर्यटन विभाग में ही होगा

गन्ना मूल्य में नौ रुपये का इजाफा

लोक सेवा आयोग का 2016-17 का प्रत्यावेदन मंजूर

एनआईएम को नियमों में छूट नहीं, विभागीय सहमति पर ही मिलेंगे काम।

 

Todays Beets: