Sunday, February 24, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

नियमों की धज्जियां उड़ाकर फर्राटा भरने वाले हो जाएं सावधान, आज से ‘तीसरी आंख’ रखेगी नजर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नियमों की धज्जियां उड़ाकर फर्राटा भरने वाले हो जाएं सावधान, आज से ‘तीसरी आंख’ रखेगी नजर

देहरादून। रेड लाइट जंप करने या फिर जाम के खत्म होते ही सड़कों पर फर्राटा भरने के आदी हो चुके वाहन चालक सावधान हो जाएं। सोमवार से शहर व आसपास के क्षेत्र में लगे ऑटोमैटिक कैमरे सक्रिय हो जाएंगे। इन कैमरों में ओवरस्पीड वाहन की तस्वीर कैद होगी जिसके बाद चालान वाहन स्वामी के घर पहुंचेगा। शहर में दो जगह रेड लाइट जंप करने पर भी इसी तरह कार्रवाई होगी। बता दें कि फिलहाल ये कैमरे महाराजा अग्रसेन चौक, एनआईईपीवीडी, नंदा की चौकी, एफआरआई, मंडी चौक और मसूरी डायवर्जन पर लगे हैं।

गौरतलब है कि प्रदेश में होने वाली सड़क दुर्घटनाओं में लगातार इजाफा होता जा रहा है। इसके बाद से ही सड़कांे पर सुरक्षा नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए वाहन चलाने वालों पर नकेल कसने की तैयारी शुरू कर दी गई थी। इसके लिए शहर और आसपास के क्षेत्र में इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत कैमरे लगाए गए थे। बता दें कि इनमें दो तरह के कैमरे शामिल हैं। पहला थ्री डी राडार स्पीड वॉयलेशन चेक कैमरा सिस्टम और दूसरा ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रिकग्नीशन (पहचान) सिस्टम शामिल हैं।

ये भी पढ़ें - जल्द ही भारत और नेपाल के बीच शुरू होगी बस सेवा!, एसटीए ने रोडवेज को दी परमिट 


यहां बता दें कि एसपी ट्रैफिक का कहना है कि ज्यादातार सड़क हादसा तेज रफ्तार की वजह से होती है। उन्होंने कहा कि नियमों का उल्लंघन करने वालों का चालान मोटर वाहन अधिनियम के तहत किया जाएगा। इसके साथ ही हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार लगातार नियम तोड़ने वाले चालकों का लाईसेंस भी निरस्त किया जाएगा। 

इसके साथ ही यातायात पुलिस ने फैंसी हाॅर्न और माॅडिफायड साइलेंसर वाली गाड़ी पर भी शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है। ऐसी गाड़ियों पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है। इस तरह की गाड़ियों पर सोमवार से 15 दिनों का अभियान चलाया जाएगा। 

Todays Beets: