Friday, November 16, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

खुशखबरी - AIIMS एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा का पंजीकरण करने के लिए मिलेंगे दो मौके , जानें कब शुरून होगा पंजीकरण

अंग्वाल न्यूज डेस्क
खुशखबरी - AIIMS एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा का पंजीकरण करने के लिए मिलेंगे दो मौके , जानें कब शुरून होगा पंजीकरण

देहरादून । एमबीबीएस की प्रवेश परीक्षा में अपनी शैक्षिक योग्यता के अलावा कई अन्य अहम जानकारी को सही तरीके से नहीं भरने के चलते हर साल बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं के फॉर्म निरस्त हो जाते थे। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। असल में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की MBBS प्रवेश परीक्षा को दो बार पंजीकरण का मौका दिया जाएगा। पहली बार यह बदलाव किया गया है। पहले अभ्यर्थी को मूल पंजीकरण कराना होगा और इसके बाद अंतिम पंजीकरण होगा। एम्स ने इसके लिए प्रॉस्पेक्टिव एप्लीकेंटस एडवांस रजिस्ट्रेशन (PAAR) की सुविधा शुरू की है। 

एडवांस रजिस्ट्रेशन से मिलेगी मदद

असल में हर साल कई छात्र प्रवेश परीक्षा का फॉर्म भरते हुए कई गलतियां कर देते हैं, जिसके चलते उनके आवेदन निरस्त होते हैं। लेकिन नई व्यवस्था के चलते अब उन्हें इससे निजात मिलेगी। परीक्षा में सम्मलित होने के इच्छुक अभ्यर्थी, प्रथम चरण में 6 माह पूर्व ही अपना मूल विवरण भरकर फोटो अपलोड कर देंगे। अपनी गलती सुधारने के लिए उनके पास अब पर्याप्त समय होगा।  पंजीकरण स्वीकार होने पर न केवल इसकी सूचना बल्कि आइडेंटिफिकेशन नंबर भी अभ्यर्थी को दिया जाएगा। इस नंबर पर उसका पूरा डाटा स्टोर होगा। अंतिम समय में अभ्यर्थी पर अनावश्यक दबाव नहीं रहेगा।

मूल पंजिकरण के लिए कोई शुल्क नहीं

यह भी बता दें कि मूल पंजीकरण के लिए किसी तरह का शुल्क नहीं देना होगा। नोटिस में कहा गया है कि मूल पंजीकरण परीक्षा से एक निश्चित समय पूर्व बंद कर दिया जाएगा। आवेदक जिन्होंने मूल पंजीकरण पूर्ण और इसे स्वीकार कर लिया गया है। यह निर्णय उसका होगा कि वह इस सत्र परीक्षा में सम्मलित होगा या बाद में। अंतिम पंजीकरण की प्रक्रिया में शामिल न होने पर भी उसका डाटा आगे की परीक्षाओं के लिए भी वैध रहेगा।


अंतिम पंजीकरण में होगा कुछ ऐसा

इस क्रम में दूसरा पंजिकरण अंतिम पंजीकरण कहलाएगा, जिसमें अभ्यर्थी योग्यता विवरण, परीक्षा केंद्र आदि विवरण भरेगा। आवेदक एडमिट कार्ड के लिए तभी योग्य होंगे जब परीक्षा संबंधी अर्हता वह पूरी करते हों। सहायक परीक्षा नियंत्रक द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि पंजीकरण की यह प्रक्रिया 2019 में होने वाली सभी परीक्षाओं में लागू होगी। 

नवंबर दूसरे सप्ताह में मूल पंजीकरण

अब बता दें कि एम्स एमबीबीएस के लिए नवंबर के दूसरे सप्ताह से ही पहले चरण के मूल पंजीकरण शुरू हो जाएंगे। इसके दूसरे चरण के अंतिम पंजीकरण फरवरी 2019 में होंगे।

Todays Beets: