Thursday, October 19, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

मुख्यमंत्री के ओएसडी ‘दीपक’ मौत से जंग हारकर भी कर गए अनोखा काम, सभी कर रहे सलाम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुख्यमंत्री के ओएसडी ‘दीपक’ मौत से जंग हारकर भी कर गए अनोखा काम, सभी कर रहे सलाम

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) दीपक डिमरी का आज देहांत हो गया। वे काफी समय से कैंसर की बीमारी से पीड़ित थे। दीपक डिमरी काफी जीवट और काम से लगाव रखने वाले अधिकारी थे, उनकी जीवटता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मृत्यु से 14 दिनों पहले भी वे मुख्यमंत्री कार्यालय में अपने कामों को अंजाम दे रहे थे। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने दीपक डिमरी के असामयिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। डिमरी को उन्होंने अपने कार्यालय का वरिष्ठ सहयोगी और मित्र बताया। 

शरीर और नेत्र का दान


बता दें कि दीपक डिमरी का शरीर मिलन विहार अपार्टमेंट में रखा गया है। उनका अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा क्योंकि उन्होंने पहले ही अपना शरीर और नेत्र दान का संकल्प लिया था। उनके शरीर को जौलीग्रांट हिमालयन अस्पताल और नेत्र महंत इंद्रेश अस्पताल को डोनेट करने का फैसला लिया था। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री ने भगत सिंह कोश्यारी ने भी दीपक डिमरी के निधन पर गहरी संवेदना व्यक्त की है।

ये भी पढ़ें - कुमाऊं विश्वविद्यालय में पढ़ाया जाएगा राज्य का इतिहास,छात्रों को मिलेगी देवभूमि के बारे में सभ...

Todays Beets: