Thursday, January 17, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

उत्तराखंड में आज लोगों को करना पड़ेगा परेशानियों का सामना, सवा लाख कार्मिक रहेंगे हड़ताल पर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड में आज लोगों को करना पड़ेगा परेशानियों का सामना, सवा लाख कार्मिक रहेंगे हड़ताल पर

देहरादून। उत्तराखंडवासियों को बुधवार को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। उत्तराखंड अधिकारी-कर्मचारी समन्वय मंच से जुड़े गढ़वाल और कुमाऊं मंडल के करीब सवा लाख कार्मिक आज हड़ताल पर रहेंगे। हड़ताल के चलते विभागों में कोई भी काम नहीं हो पाएगा। बता दें कि अटल आयुष्मान योजना के तहत जारी यू-हेल्थ कार्ड में कर्मचारियों का पैसा काटने के बाद दून अस्पताल की शर्त का विरोध किया जा रहा है। उनकी मांग है कि शासनादेश में संशोधन की मांग कर रहे हैं। 

गौरतलब है कि उत्तराखंड अधिकारी-कर्मचारी समन्वय मंच सरकार की ओर से जारी आदेश में संशोधन के अलावा अन्य मांगों को लेकर भी आंदोलन कर रहा है। बता दें कि पिछले महीने 21 दिसंबर को क्लीनिकल एस्टेब्लिशमेंट एक्ट के विरोध में मंच ने प्रमुख सचिव चिकित्सा को 2 जनवरी को हड़ताल की चेतावनी दी थी। इस कर्मचारी मंत्र ने 15 जनवरी से 31 जनवरी तक जन-जागरण अभियान चलाने का फैसला लिया है। इस दौरान जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन सौंपा जाएगा इसके बावजूद काम नहीं होने पर 4 फरवरी को देहरादून मंे सरकार विरोधी रैली का आयोजन किया जाएगा। 

ये भी पढ़ें - आज के शीतसत्र के ‘राफेल बहस’ से गरमाने के आसार, पक्ष और विपक्ष होंगे आमने-सामने

इन मांगों के लिए हो रही है हड़ताल 

अटल आयुष्मान योजना के शासनादेश को संशोधित किया जाए।

केंद्र के समान समस्त कार्मिकों को भत्ते दिए जाएं।


सातवें वेतन आयोग के तहत प्रमोशन और वेतनमान की समस्या निस्तारित की जाए।

पुरानी पेंशन व्यवस्था को तत्काल बहाल किया जाए।

सेवानिवृत्ति के समय गृह जनपद में तैनाती दी जाए।

अर्हकारी सेवा में शिथिलीकरण की व्यवस्था यथावत रखी जाए।

वेतन विसंगति समिति की कर्मचारी विरोधी निर्णयों को लागू न किया जाए।

Todays Beets: