Wednesday, January 17, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

‘मिशन महाव्रत’ को सोशल मीडिया पर बढ़ावा देने के आरोप में एक शिक्षक गिरफ्तार, भेजा गया जेल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
‘मिशन महाव्रत’ को सोशल मीडिया पर बढ़ावा देने के आरोप में एक शिक्षक गिरफ्तार, भेजा गया जेल

देहरादून। राज्य में पुलिस व्यवस्था में सुधार की मांग के लिए सिपाहियों द्वारा सीएम को भेजे जाने वाले गुमनाम पत्रों के कार्यक्रम को हवा देने वाले शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है। ‘मिशन महाव्रत’ को सोशल मीडिया पर आगे बढ़ाने के आरोप में पुलिस ने रायपुर से एक प्राईवेट शिक्षक राकेश तोमर को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने उसे पहले भी गिरफ्तार कर चुकी है। इसके अलावा पुलिस अन्य आरोपियों को भी पकड़ने के लिए अभियान चला रही है।

पुलिस दोषियों पर सख्त

गौरतलब है कि कुछ पुलिस कर्मियों ने सीएम त्रिवेन्द्र रावत के नाम गुमनाम पत्र लिखे जाने की खबर सामने आने के बाद पुलिस मुख्यालय में हड़कंप मच गया था। मिशन महाव्रत के नाम से शुरू किए जाने वाले आंदोलन को दबाने की कार्रवाई में पुलिस ने चमोली के दो पुलिस काउंस्टेबल को निलंबित कर दिया था। अब इस आरोप में एक प्राईवेट शिक्षक राकेश तोमर को गिरफ्तार किया है। बता दें कि राकेश को पुलिस पहले भी विकासनगर में गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस ने साफ कह दिया है कि दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। 

ये भी पढ़ें - शराब की ओवर रेटिंग रोकने में नाकाम अधिकारियों पर गिरेगी गाज, सीएम ने दिए हटाने के निर्देश

कई पुलिस वाले हुए सस्पेंड


आपको बता दें कि पुलिस सोशल मीडिया पर भड़काऊ संदेश भेजने वाले अन्य लोगांे के खिलाफ सबूत जुटा रही है। बता दें कि कथित पुलिस कर्मियों ने सीएम के नाम गुमनाम पत्र जारी करते हुए मिशन महाव्रत आंदोलन की चेतावनी दी थी। शनिवार को तय इस आंदोलन को हवा देने वालों पर पुलिस की कई टीमें नजर रखे हुई थीं। इससे पहले एक महिला दारोगा समेत चार पुलिस कर्मी सस्पेंड किए जा चुके हैं इसके साथ ही 16 पुलिसकर्मियों के खिलाफ जांच जारी है। पुलिस के साइबर सेल को इस बात की सूचना मिली कि कोई व्यक्ति सोशल मीडिया पर मिशन महाव्रत के मैसेज को आगे बढ़ा रहा है। 

 

पुलिस भर्ती में नाकामयाब

यहां बता दें कि पुलिस टीम ने जांच की तो आरोपी की पहचान राकेश तोमर निवासी कालसी के रूप में हुई। सर्विलांस पर आरोपी की लोकेशन आइटी पार्क रायपुर में निकली जहां रायपुर पुलिस की मदद से टीम ने आरोपी राकेश को गिरफ्तार कर लिया। अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया कि आरोपी कालसी में प्राइवेट स्कूल चलाता है। आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया है। पूछताछ में उसने बताया कि कई बार कोशिश करने के बाद भी पुलिस में भर्ती होने में असफल रहने पर उसने यह कदम उठाया है। 

Todays Beets: