Wednesday, December 19, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

किसानों की फसल बीमा रकम डकारने वाले शाखा प्रबंधक हुए गिरफ्तार, भेजा गया जेल 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
किसानों की फसल बीमा रकम डकारने वाले शाखा प्रबंधक हुए गिरफ्तार, भेजा गया जेल 

टिहरी। किसानों के फसल बीमा की रकम डकारने वाले ब्रांच मैनेजर को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। प्रतापनगर ब्लॉक के एसबीआई शाखा माजफ में पूर्व में तैनात एक शाखा प्रबंधक ने फसल बीमा की 3 लाख 33 हजार रुपये की धनराशि गबन किया था। धोखाधड़ी करने वाला आरोपी बैंक मैनेजर एसबीआई बैंक शाखा मुजफ्फरनगर में तैनात था और पुलिस ने उसे मुजफ्फरनगर से ही गिरफ्तार किया है। 

किसानों को नहीं मिला पैसा 

गौरतलब है फसल बीमा की रकम के गबन का यह मामला साल 2009 से 2011 का है। उस वक्त शाखा प्रबंधक संजीव कुमार शर्मा भारतीय स्टेट बैंक की शाखा माजफ में शाखा प्रबंधक के पद पर तैनात था। इस दौरान सरकार की ओर से बैंक में किसानों को फसल बीमा बांटने के लिए 3 लाख 33 हजार 899 रुपये उपलब्ध कराए गए थे जिसे लाभार्थियों के बीच बांटा जाना था। 


ये भी पढ़ें - शिक्षा विभाग पढ़ाई के साथ छात्रों को करियर काउंसलिंग भी देगा, बस एक क्लिक पर मिलेगी जानकारी 

नए ब्रांच मैनेजर ने कराई जांच

आपको बता दें कि शाखा प्रबंधक संजीव कुमार ने इस पैसे को किसानों के बीच बांटने के बजाय दूसरे खातों में डाल दिए। इन खातों में कुछ खाते संजीव कुमार के पहचान वालों के ही थे। साल 2011 में संजीव कुमार का वहां से तबादला हो गया और उनकी जगह पर विमल राय ने प्रबंधक का पद संभाला तो खातों में धोखाधड़ी का मामला उजागर हुआ। उन्होंने मामले की जांच कराई और पूर्व प्रबंधक के खिलाफ राजस्व पुलिस में मुकदमा दर्ज करा दिया। मामला पुलिस में आने के बाद कोर्ट से वारंट जारी हुआ और मुजफ्फरनगर में एसबीआई शाखा रेलवे रोड में तैनात आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। ब्रांच मैनेजर के खिलाफ आईपीसी की धारा 409 व 420 में मुकदमा दर्ज है। 

Todays Beets: