Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

प्राथमिक शिक्षक वेतन-भत्तों की रिकवरी के आदेश से सरकार से नाराज, कोर्ट जाने की चेतावनी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
प्राथमिक शिक्षक वेतन-भत्तों की रिकवरी के आदेश से सरकार से नाराज, कोर्ट जाने की चेतावनी

देहरादून। ऐसा लगता है राज्य में सरकार और शिक्षकों के बीच सबकुछ अभी भी ठीक नहीं चल रहा है। शिक्षक एलटी कैडर के समान मिले वेतन और भत्ते पा रहे बेसिक शिक्षक अब रिकवरी आदेश के खिलाफ खड़े हो गए हैं। शिक्षकों का कहना है कि अगर शिक्षक चयन वेतनमान और प्रमोशन से 4200 से 4600 ग्रेड पे पर पहुंचे शिक्षक एलटी कैडर के समान वेतन-भत्तों के पात्र नहीं थे तो उन्हें भुगतान क्यों किया गया? प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय महामंत्री दिग्विजय सिंह चैहान का कहना है कि रिकवरी के आदेश का विरोध किया जाएगा। 

वेतन-भत्तों की रिकवरी

गौरतलब है कि शिक्षक संघ ने अपना विरोध जताते हुए कहा कि जरूरत पड़ने पर वे कोर्ट में भी जा सकते हैं। प्राथमिक शिक्षक संघ की उप महामंत्री आभा गौड़ ने कहा कि यह छठे वेतनमान की विसंगति है सरकार को इसे जल्द से जल्द दूर करना चाहिए। यहां बता दें कि शिक्षा निदेशक ने 2 दिनों पहले ही सीईओ को एलटी के समान वेतन-भत्ते पा रहे शिक्षकों से रिकवरी के आदेश दिए हैं। 


ये भी पढ़ें उत्तरकाशी में हुआ बड़ा हादसा, बारातियों से भरी गाड़ी के खाई में गिरने से 5 की मौके पर मौत, 5 अ...

हरियाणा में भी ऐसी स्थिति

यहां बता दें कि सरकारी आदेश के अनुसार 1 जनवरी 2006 के बाद प्रमोशन और चयन वेतनमान से 4200 से 4600 ग्रेड पे पर आए शिक्षकों को एलटी कैडर के समान 17 हजार 140 रुपये वेतन का लाभ नहीं मिल सकता है। यहां बता दें कि ऐसी ही स्थिति हरियाणा में भी पैदा हो गई है लेकिन वहां रिकवरी के आदेश पर रोक लगा दी गई है। अब प्राथमिक शिक्षक संघ हरियाणा हाईकोर्ट के आदेश के प्रति मंगाने का प्रयास कर रहा है इसके आधार पर शिक्षक राज्य में भी न्यायिक लड़ाई लड़ेंगे।  

Todays Beets: