Thursday, November 23, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

उत्तराखंड की बेटी ‘प्रियंका’ ने एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में मनवाया अपना लोहा, कांस्य पर किया कब्जा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड की बेटी ‘प्रियंका’ ने एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में मनवाया अपना लोहा, कांस्य पर किया कब्जा

देहरादून। एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में उत्तराखंड की बेटी ने भी अपना लोहा मनवाया है। मूल रूप से काशीपुर से प्रियंका चौधरी ने वियतनाम में हुई एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में 60 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीता है। बता दें कि  प्रियंका पिछले तीन साल से नेशनल चैंपियन हैं। यहां यह भी जान लें कि प्रियंका उत्तराखंड की एक मात्र ऐसी खिलाड़ी हैं जो देश का प्रतिनिधित्व किया है। 

कोरिया की खिलाड़ी से हारी

गौरतलब है कि क्वार्टर फाइनल बाउट में प्रियंका ने 60 किग्रा भारवर्ग में खेलते हुए श्रीलंका की मुक्केबाज को हराया। इसके बाद सेमीफाइनल में प्रियंका का सामना कोरिया की मुक्केबाज से हुआ, लेकिन वे यह बाउट हार गईं वहीं सेमीफाइनल में हार के बाद प्रियंका को कांस्य पदक पर संतोष करना पड़ा। 

ये भी पढ़ें -  शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़े में अजीबोगरीब मामला आया सामने, 21 सालों से एक ही प्रमाण पत्र पर कार्यर...


 

हरजीत संधु से सीखी बारीकियां

आपको बता दें कि फिलहाल प्रियंका चौधरी रेलवे की तरफ से खेलती हैं। उससे पहले उत्तराखंड की तरफ से खेलते हुए प्रियंका स्टेट चैंपियन भी रह चुकी हैं। पिछले तीन साल से वे लगातार 60 किग्रा भारवर्ग में नेशनल चैंपियन हैं। गौर करने वाली बात है कि प्रियंका ने मुक्केबाजी की बारीकियां अपने कोच हरजीत सिंह संधु से सीखीं और उनकी देखरेख में ही राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाई। इस उपलब्धि पर उत्तराखंड बॉक्सिंग संघ के सचिव डॉ. धर्मेंद्र भट्ट, कोच पूजा यादव, प्रियंका के भाई पुष्पेंद्र चौधरी ने उन्हें बधाई दी है।

Todays Beets: