Monday, July 23, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

उत्तराखंड की बेटी ‘प्रियंका’ ने एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में मनवाया अपना लोहा, कांस्य पर किया कब्जा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड की बेटी ‘प्रियंका’ ने एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में मनवाया अपना लोहा, कांस्य पर किया कब्जा

देहरादून। एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में उत्तराखंड की बेटी ने भी अपना लोहा मनवाया है। मूल रूप से काशीपुर से प्रियंका चौधरी ने वियतनाम में हुई एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में 60 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीता है। बता दें कि  प्रियंका पिछले तीन साल से नेशनल चैंपियन हैं। यहां यह भी जान लें कि प्रियंका उत्तराखंड की एक मात्र ऐसी खिलाड़ी हैं जो देश का प्रतिनिधित्व किया है। 

कोरिया की खिलाड़ी से हारी

गौरतलब है कि क्वार्टर फाइनल बाउट में प्रियंका ने 60 किग्रा भारवर्ग में खेलते हुए श्रीलंका की मुक्केबाज को हराया। इसके बाद सेमीफाइनल में प्रियंका का सामना कोरिया की मुक्केबाज से हुआ, लेकिन वे यह बाउट हार गईं वहीं सेमीफाइनल में हार के बाद प्रियंका को कांस्य पदक पर संतोष करना पड़ा। 

ये भी पढ़ें -  शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़े में अजीबोगरीब मामला आया सामने, 21 सालों से एक ही प्रमाण पत्र पर कार्यर...


 

हरजीत संधु से सीखी बारीकियां

आपको बता दें कि फिलहाल प्रियंका चौधरी रेलवे की तरफ से खेलती हैं। उससे पहले उत्तराखंड की तरफ से खेलते हुए प्रियंका स्टेट चैंपियन भी रह चुकी हैं। पिछले तीन साल से वे लगातार 60 किग्रा भारवर्ग में नेशनल चैंपियन हैं। गौर करने वाली बात है कि प्रियंका ने मुक्केबाजी की बारीकियां अपने कोच हरजीत सिंह संधु से सीखीं और उनकी देखरेख में ही राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाई। इस उपलब्धि पर उत्तराखंड बॉक्सिंग संघ के सचिव डॉ. धर्मेंद्र भट्ट, कोच पूजा यादव, प्रियंका के भाई पुष्पेंद्र चौधरी ने उन्हें बधाई दी है।

Todays Beets: