Tuesday, January 22, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

मौसम का खतरा अभी टला नहीं, इन 4 जिलों में हो सकती है बारिश, लोगों को सावधान रहने की जरूरत

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मौसम का खतरा अभी टला नहीं, इन 4 जिलों में हो सकती है बारिश, लोगों को सावधान रहने की जरूरत

देहरादून। मौसम का कहर देश के ज्यादातर हिस्सों में जारी है। उत्तराखंड के लोगों को भी फिलहाल मौसम के बदले मिजाज से राहत नहीं मिलने वाली है। मौसम विभाग ने हालांकि कहीं भी फिलहाल आंधी की चेतावनी जारी नहीं की गई है लेकिन उनका कहना है कि बुधवार को प्रदेश के उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़ में बारिश हो सकती है। प्रदेश के अन्य हिस्सों में आंशिक बादल छाए रह सकते हैं। 

गौरतलब है कि पिछले दिनों राज्य के चमोली जिले में बादल फटने की वजह से काफी नुकसान हुआ है उसके बाद हुई बारिश से कई रास्ते बंद हो गए। प्रदेश में हो रही लगातार बारिश होने से चारधाम यात्रा पर जाने वालांे को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग ने बताया कि पिथौरागढ़, चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिलों में बुधवार को बारिश के आसार हैं। 


ये भी पढ़ें - उत्तराखंड की महिला क्रिकेटर भी दिखाएंगी अपना जलवा, 23 मई से दून में शुरू होगा प्रथम ऑल इंडिया...

यहां बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में भी मंगलवार देर रात अचानक मौसम में बदलाव आ गया। यहां तेज धूल भरी आंधी के साथ-साथ हल्की फुल्की बारिश भी हुई। आंधी-तूफान देर रात करीब 3 बजे शरू हुआ। अचानक तेज आंधी तूफान के बाद दिल्ली एनसीआर के कई इलाकों में बिजली गुल हो गई और तूफान के कारण कई जगहों पर पेड़ गिर गए। गौर करने वाली बात है कि मौसम विभाग का कहना है कि तूफान का खतरा अभी टला नहीं है। ऐसे में लोगों की सावधान रहने की जरूरत है। 

Todays Beets: