Friday, October 20, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

दिवाली में बढ़ सकती हैं प्रदेशवासियों की परेशानियां, रोडवेज यूनियन ने किया 17 अक्टूबर को कार्यबहिष्कार का ऐलान 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दिवाली में बढ़ सकती हैं प्रदेशवासियों की परेशानियां, रोडवेज यूनियन ने किया 17 अक्टूबर को कार्यबहिष्कार का ऐलान 

देहरादून। दिवाली के मौके पर उत्तराखंड में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। उत्तराखंड रोडवेज ने समय पर वेतन न मिलने और उनकी अन्य मांगों के पूरा न होने की स्थिति में17 अक्टूबर को एक दिन के कार्यबहिष्कार का ऐलान कर दिया है। उसके बाद 24 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है। ऐसे में रोडवेज प्रबंधन के सामने धनतेरस के मौके पर लोगों को संसाधन कैसे मुहैया कराए जाएं यह समस्या पैदा हो गयी है।

हड़ताल की चेतावनी

गौरतलब है कि प्रदेश में रोडवेज का पहिया थम जाने से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। रोडवेज यूनियन का कहना है कि सरकार के पास रोडवेज के करोड़ों रुपये का बकाया है। इसकी भरपाई करने के लिए सरकार ने किराया बढ़ाने का ऐलान कर दिया। किराया बढ़ाने के बाद भी कर्मचारियों को समय से वेतन नहीं मिल पा रहा है। सातवें वेतनमान का लाभ तक नहीं दिया जा रहा है। अब धनतेरस के दिन कार्यबहिष्कार के ऐलान से रोडवेज प्रबंधन के हाथ-पांव फूले हुए हैं। 

ये भी पढ़ें - सरकारी नौकरी के दौरान मौत होने पर बेटा और तलाकशुदा पुत्री कर सकेगी नौकरी के लिए आवेदन - रावत कैबिनेट


वेतन और अन्य भत्तों की मांग

आपको बता दें कि रोडवेज यूनियन के महामंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि रोडवेज यूनियन और सरकार के साथ एक समझौता किया गया था लेकिन उसका उल्लंघन किया जा रहा है। यूनियन ने मांग की है कि सभी समझौतों का पालन किया जाए। इसके साथ ही नियमित, विशेष श्रेणी समेत संविदा और कार्यशाला कर्मियों को बोनस भुगतान किया जाए। रोडवेज कर्मचारियों का चार सालों से जो भत्ता और वेतन कटौती का बकाया है उसे जारी किया जाए। 

 

Todays Beets: