Wednesday, November 21, 2018

Breaking News

   चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा, कोर्ट में किया था सरेंडर     ||   MP में चुनाव प्रचार के दौरान शख्स ने BJP कैंडिडेट को पहनाई जूतों की माला     ||   बेंगलुरु: गन्ना किसानों के साथ सीएम कुमारस्वामी की बैठक     ||   US में ट्रंप को कोर्ट से झटका, अवैध प्रवासियों को शरण देने से नहीं कर सकते इनकार    ||   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||

पंचायतों को आवंटित धनराशि की ‘बंदरबांट’ की एसआईटी करेगी जांच, दोषियों पर होगी कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पंचायतों को आवंटित धनराशि की ‘बंदरबांट’ की एसआईटी करेगी जांच, दोषियों पर होगी कार्रवाई

देहरादून। राज्य के पंचायतों में हुई वित्तीय अनियमितताओं पर पंचायती राज मंत्री अरविंद पांडे ने गहरी नाराजगी जताते हुए कहा कि इसी एसआईटी से जांच कराने की बात कही थी। पंचायती राज व्यवस्था की समीक्षा बैठक में मंत्री ने ये बातें कहीं हैं। अरविंद पांडे ने प्रमुख सचिव पंचायतराज से 14वें वित्त आयोग में वर्ष 2015-16 से अब तक आवंटित धनराशि कि जो धनराशि आवंटित की गई राशि के खर्च की एस.आई.टी. जांच कराने के निर्देश दिए हैं। 

गौरतलब है कि पंचायती राज मंत्री अरविंद पांडे ने प्रमुख सचिव एवं निदेशक पंचायतीराज को समय-समय पर योजनाओं में संचालित कार्यों के निरंतर मूल्यांकन एवं अनुश्रवण के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि एसआईटी की जांच में दोषी पाए जाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। मंत्री ने कहा कि पंचायत की आवंटित की गई धनराशि आम जनता का है और इसके भुगतान में अनियमितता/डुप्लीकेसी नहीं होनी चाहिए। 

ये भी पढ़ें - प्रदेश के लोगों को अब नहीं सताएगी सेहत की चिंता, लागू होगी उत्तराखंड आयुष्मान योजना


यहां बता दें कि मंत्री ने सभी अपर मुख्य अधिकारियों को 15 दिनों के बाद हओने वाली समीक्षा बैठक में पूरी कार्ययोजना के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं और वित्त आयोग से प्राप्त धन से खरीदी गई सामग्री की दर आदि का विवरण, अगली समीक्षा बैठक में साथ लाने के निर्देश दिए हैं।

 

Todays Beets: