Saturday, July 21, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

पंचायतों को आवंटित धनराशि की ‘बंदरबांट’ की एसआईटी करेगी जांच, दोषियों पर होगी कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पंचायतों को आवंटित धनराशि की ‘बंदरबांट’ की एसआईटी करेगी जांच, दोषियों पर होगी कार्रवाई

देहरादून। राज्य के पंचायतों में हुई वित्तीय अनियमितताओं पर पंचायती राज मंत्री अरविंद पांडे ने गहरी नाराजगी जताते हुए कहा कि इसी एसआईटी से जांच कराने की बात कही थी। पंचायती राज व्यवस्था की समीक्षा बैठक में मंत्री ने ये बातें कहीं हैं। अरविंद पांडे ने प्रमुख सचिव पंचायतराज से 14वें वित्त आयोग में वर्ष 2015-16 से अब तक आवंटित धनराशि कि जो धनराशि आवंटित की गई राशि के खर्च की एस.आई.टी. जांच कराने के निर्देश दिए हैं। 

गौरतलब है कि पंचायती राज मंत्री अरविंद पांडे ने प्रमुख सचिव एवं निदेशक पंचायतीराज को समय-समय पर योजनाओं में संचालित कार्यों के निरंतर मूल्यांकन एवं अनुश्रवण के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि एसआईटी की जांच में दोषी पाए जाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। मंत्री ने कहा कि पंचायत की आवंटित की गई धनराशि आम जनता का है और इसके भुगतान में अनियमितता/डुप्लीकेसी नहीं होनी चाहिए। 

ये भी पढ़ें - प्रदेश के लोगों को अब नहीं सताएगी सेहत की चिंता, लागू होगी उत्तराखंड आयुष्मान योजना


यहां बता दें कि मंत्री ने सभी अपर मुख्य अधिकारियों को 15 दिनों के बाद हओने वाली समीक्षा बैठक में पूरी कार्ययोजना के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं और वित्त आयोग से प्राप्त धन से खरीदी गई सामग्री की दर आदि का विवरण, अगली समीक्षा बैठक में साथ लाने के निर्देश दिए हैं।

 

Todays Beets: