Saturday, May 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

केदारनाथ धाम में फैली ‘सफेद चादर’, बदले मौसम से मैदानी इलाकों में बढ़ी ठंड

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केदारनाथ धाम में फैली ‘सफेद चादर’, बदले मौसम से मैदानी इलाकों में बढ़ी ठंड

देहरादून। उत्तराखंड में मौसम ने एक बार फिर से मौसम ने करवट बदल लिया है। देर शाम ही केदारनाथ धाम के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी शुरू हो गई है। बर्फबारी शुरू होने से मैदानी इलाकों में गर्मी से परेशान लोगों को ठंड का एहसास होने लगा है। खबरों के अनुसार केदारनाथ धाम में मेरू-सुमेरू पर्वत श्रृंखलाओं के साथ ही दुग्ध गंगा की ऊपरी पहाड़ियों पर भारी हिमपात हुआ है। यहां बता दें कि मौसम विभाग ने पहले ही 22 से 25 सितंबर के बीच राज्य में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर चुका है। 

गौरतलब है कि देर शाम से ऊपरी इलाकों में हो रही भारी बर्फबारी ने लोगों की मुश्किलों में एक बार फिर से इजाफा कर दिया है। पहाड़ों पर बर्फबारी होने से केदारनाथ धाम के आसपास कोहरा छा गया है। केदारनाथ पुलिस चैकी प्रभारी बिपिन चंद्र पाठक ने बताया कि केदारनाथ के ऊपरी क्षेत्रों में सीजन का पहला तेज हिमपात हुआ है। 

ये भी पढ़ें - अब शिक्षक नहीं करेंगे गैर शैक्षिक कार्य, शिक्षा सचिव ने जिलाधिकारियों को दिए निर्देश 


यहां बता दें कि दुग्धताल के अलावा वासुकीताल में भी देर रात से भारी बर्फबारी का सिलसिला जारी है। पर्वतीय इलाकों मंे मौसम के बदलते ही मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ गई है। केदारनाथ के अलावा चमोली और हेमकुंड साहिब में भी देर शाम से ही बर्फबारी हो रही है। 

आपको बता दें कि मौसम विभाग ने पहले ही 22 से 25 सितंबर तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। विभाग ने 23 और 24 सितंबर को भारी से भारी बारिश की संभावना जताई है। बारिश की चेतावनी को देखते हुए सभी अधिकारियों को 24 घंटे सतर्क रहने और अपना मोबाइल खुला रखने के निर्देश दिए गए हैं।

Todays Beets: