Saturday, October 20, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

मुरादाबाद में तैनात पौड़ी गढ़वाल के एसओजी सिपाही आयुष भट्ट की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच में जुटी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुरादाबाद में तैनात पौड़ी गढ़वाल के एसओजी सिपाही आयुष भट्ट की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच में जुटी

मुरादाबाद/देहरादून। उत्तरप्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था और प्रशासन पर सवाल उठने लगे हैं। मुरादाबाद में तैनात पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले एसओजी सिपाही आयुष भट्ट की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्यारे ने शव को बुद्धि विहार क्षेत्र में फेंककर सिपाही की पिस्टल लेकर फरार हो गए। बता दें कि आयुष ने 2011 में एसओजी बने थे और एक साल से यहां तैनात थे। यहां बता दें कि आयुष के पिता भी पुलिस में हैं और दून में दारोगा के पद पर तैनात हैं यही नहीं उनकी बहन मनीषा भी मेरठ के एसएसपी आॅफिस में तैनात हैं। 

सर्विस पिस्टल भी ले भागे

गौरतलब है कि आयुष की मां राजेश्वरी देवी भी मुजफ्फरनगर में एचसीपी हैं। बता दें कि 2011 बैच का सिपाही आयुष यहां एक साल से तैनात था। हत्यारों ने किसी कारण से उन्हें रविवार को बुद्धिविहार के पास बाइक से बुलाया और वहीं उनकी गोली मारकर हत्या कर दी। आयुष को गोली मारकर उसके शव को जंगलों में फेंककर उनके सर्विस पिस्टल लेकर फरार हो गए।


ये भी पढ़ें - इंजीनियरिंग काॅलेज की स्थापना दिवस पर बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री, ड्रोन चेहरे के पास पहुंचा

तलाशी के लिए टीम का गठन

आपको बता दें कि मौके से सिपाही का बैग बरामद हुआ है। एसएसपी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमों का गठन किया है। 

Todays Beets: