Saturday, February 23, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

बाड़ाहोती में एक बार घुसा ड्रैगन, चरवाहों को वापस जाने का किया इशारा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बाड़ाहोती में एक बार घुसा ड्रैगन, चरवाहों को वापस जाने का किया इशारा

देहरादून। चीनी सैनिकों ने एक बार फिर से भारतीय सीमा में घुसने की हिमाकत की है। चमोली जिले के बाड़ाहोती इलाके में यह चीनी सैनिकों की सिर्फ जुलाई में ही 5वीं बार घुसपैठ है। स्थानीय लोगों के अनुसार सैनिक छोटे वाहनों और घोड़ों पर सवार होकर आए थे। हालांकि प्रशासन ने ऐसी किसी भी सूचना से साफ इंकार किया है। इससे पहले भी 10 जुलाई को चीन की सेना तुनजुन ला के करीब 500 मीटर तक अंदर आ गए थे। 

गौरतलब है कि आईटीबीपी के जवानों द्वारा विरोध जताने के बाद ये सैनिक वापस चले गए। बताया जा रहा है कि 8 जुलाई को भी बाईकों पर सवार चीनी सैनिक भारतीय क्षेत्र में घुस आए थे। अब होतीगाड़ इलाके में चीनी सैनिकों के 4 किलोमीटर तक अंदर घुस जाने की खबर मिली है। भारतीय क्षेत्र मंे आए सैनिकों ने वहां अपने पशुओं को चराने गए चरवाहों को वापस जाने का इशारा किया। 

यहां बता दें कि चीनी सैनिकों की घुसपैठ पर चमोली की जिलाधिकारी स्वाती एस भदौरिया ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों की टीम को बाड़ाहोती के क्षेत्र में भेजा गया है लेकिन उन्होंने किसी भी तरह की घुसपैठ की खबर से इंकार किया है। मीडिया में आ रही खबरों के बाद प्रशासनिक अधिकारियों से जानकारी मांगी गई लेकिन फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली है। 

ये भी पढ़ें - पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी की हालत हुई नाजुक, डायलिसिस पर ले गए डाॅक्टर


पुलिस अधीक्षक तृप्ति भट्ट ने इस संबंध में कुछ भी कहने से इंकार किया है। यहां बता दें कि पिछले वर्ष भी 25 जुलाई को बाड़ाहोती क्षेत्र में करीब 200 चीनी सैनिक करीब एक किलोमीटर तक भारतीय सीमा में घुस आए थे। 

 

Todays Beets: