Saturday, March 23, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

ट्रक आॅपरेटर्स की हड़ताल से उत्तराखंड को 100 करोड़ का नुकसान, स्कूली बच्चों को भी परेशानियों का सामना

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ट्रक आॅपरेटर्स की हड़ताल से उत्तराखंड को 100 करोड़ का नुकसान, स्कूली बच्चों को भी परेशानियों का सामना

देहरादून। देश भर में चल रहे ट्रक आॅपरेटरों की हड़ताल में उत्तराखंड ट्रक आॅरेटर्स भी कूद पड़े हैं। इन आॅपरेटरों की हड़ताल से व्यापारियों के साथ ही सरकार को भी काफी नुकसान हा रहा है। बता दें कि ट्रक आॅपरेटर्स की मांग है कि पूरे देश में टोल बैरियर को खत्म करने, रोड सेफ्टी बिल लागू करने, डीजल की बढ़ती कीमतों को कम किया जाए। बताया जा रहा है कि ट्रकों के पहियों के थमने से देहरादून के ट्रांसपोर्ट नगर में बड़ी संख्या में उनका जमावड़ा लग गया है। अब इन ट्रक आॅरपेटरों की मांग है कि अगर सरकार इनकी मांगों को पूरा नहीं करती है तो दूध पानी और जरूरी सामानों को पहुंचाने वाले वाहनों की सेवाएं भी बंद कर दी जाएंगी। 

गौरतलब है कि ट्रक आॅपरेटरों की हड़ताल से राज्य में पहले ही दिन करीब 100 करोड़ रुपये का व्यापार प्रभावित हुआ है। बता दें कि प्रदेश के लोग इस समय दोहरी मार झेल रहे हैं। एक तो मौसम की तल्खी ने उनकी परेशानी बढ़ा रखी और ऊपर से ट्रक, बिक्रम और मिनी बस आॅपरेटरों के भी हड़ताल पर चले जाने से आम लोगों के साथ स्कूल जाने वाले छात्रों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

ये भी पढ़ें - आने वाले 2 दिनों तक हो सकती है आफत की बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट


यहां बता दें कि इन दिनों ट्रक आॅपरेटर्स अपनी मांगों को लेकर पूरे देश में हड़ताल कर रखी है। आॅपरेटर्स ने ट्रांसपोर्ट नगर में जमा होकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और पुतला जलाने का काम भी किया। उत्तराखंड ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन का कहना है कि डायरेक्ट पोर्ट डिलीवरी योजना समाप्त करने के साथ ही ट्रांसपोर्ट कारोबार पर टीडीएस समाप्त करने, तृतीय पक्ष बीमा प्रीमियम निर्धारण में पारदर्शिता, जीएसटी में छूट, ई वे बिल से जुड़ी व्यावसायिक समस्याओं को देखते हुए नियमों में संशोधन करने, बसों और पर्यटक वाहनों को नेशनल परमिट देने जैसी मांगों को लेकर यह हड़ताल की जा रही है। 

 

Todays Beets: