Thursday, September 21, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

ताशी-नुंग्शी के नाम जुड़ा एक और कीर्तिमान,अमेरिकी कंपनी की पहली दक्षिण एशियाई महिला ब्रांड एम्बेसडर बनीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ताशी-नुंग्शी के नाम जुड़ा एक और कीर्तिमान,अमेरिकी कंपनी की पहली दक्षिण एशियाई महिला ब्रांड एम्बेसडर बनीं

देहरादून। एवरेस्ट समेत दुनिया के सात सर्वोच्च शिखर को फतह करने वाली उत्तराखंड की जुड़वां बहनें ताशी और नुंग्शी मलिक के नाम एक और उपलब्धि जुड़ गई है। पर्वतारोहण का साजो-सामान बनाने वाली अमेरिकन कंपनी माउंटेन हार्डवियर ने अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है। बता दें कि इस कंपनी ने भारत और पूरे दक्षिण एशिया से पहली बार किसी को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है। 

तीन साल के लिए बनी एंबेसडर

गौरतलब है कि अमेरिका के कोलंबिया स्पोर्टस के तहत चलने वाली माउंटेन हार्डवियर कंपनी सेन फ्रांसिसको में स्थित में है। मई महीने में ही कंपनी ने इन दोनों बहनों से संपर्क किया था। ताशी और नंुग्शी ने उन्हें अपनी आगे की योजना के बारे में बताया था उसके बाद ही कंपनी ने इन्हें तीन साल के लिए अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है।  बता दें कि माउंटेन हार्डवियर कंपनी विश्वस्तरीय हाई एल्टीट्यूट गीयर बनाती है। 

ये भी पढ़ें - अब वाॅल्वो बसों में भी मुफ्त यात्रा कर सकेंगे राज्य के स्वतंत्रता सेनानी, मुख्य सचिव ने जारी ...


कई पुरस्कारों से हुई सम्मानित

नुंग्शी-ताशी के पिता कर्नल वीएस मलिक ने बताया कि दोनों बहनों ने देश का नाम रोशन किया है। अपने पर्वतारोहण अभियान के लिए नुंग्शी-ताशी को भारत का सर्वोच्च एडवेंचर अवार्ड तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड मिल चुका है। इसके अलावा आइसलैंड में दोनों को लेफ एरिक्सन यंग एक्सप्लोरर्स अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है। फिलहाल दोनों बहनें एक किताब लिखने में जुटी हैं इसके साथ ही उनकी संस्था महिला सशक्तिकरण का काम भी कर रही है।   

 

Todays Beets: