Saturday, January 20, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

ताशी-नुंग्शी के नाम जुड़ा एक और कीर्तिमान,अमेरिकी कंपनी की पहली दक्षिण एशियाई महिला ब्रांड एम्बेसडर बनीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ताशी-नुंग्शी के नाम जुड़ा एक और कीर्तिमान,अमेरिकी कंपनी की पहली दक्षिण एशियाई महिला ब्रांड एम्बेसडर बनीं

देहरादून। एवरेस्ट समेत दुनिया के सात सर्वोच्च शिखर को फतह करने वाली उत्तराखंड की जुड़वां बहनें ताशी और नुंग्शी मलिक के नाम एक और उपलब्धि जुड़ गई है। पर्वतारोहण का साजो-सामान बनाने वाली अमेरिकन कंपनी माउंटेन हार्डवियर ने अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है। बता दें कि इस कंपनी ने भारत और पूरे दक्षिण एशिया से पहली बार किसी को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है। 

तीन साल के लिए बनी एंबेसडर

गौरतलब है कि अमेरिका के कोलंबिया स्पोर्टस के तहत चलने वाली माउंटेन हार्डवियर कंपनी सेन फ्रांसिसको में स्थित में है। मई महीने में ही कंपनी ने इन दोनों बहनों से संपर्क किया था। ताशी और नंुग्शी ने उन्हें अपनी आगे की योजना के बारे में बताया था उसके बाद ही कंपनी ने इन्हें तीन साल के लिए अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है।  बता दें कि माउंटेन हार्डवियर कंपनी विश्वस्तरीय हाई एल्टीट्यूट गीयर बनाती है। 

ये भी पढ़ें - अब वाॅल्वो बसों में भी मुफ्त यात्रा कर सकेंगे राज्य के स्वतंत्रता सेनानी, मुख्य सचिव ने जारी ...


कई पुरस्कारों से हुई सम्मानित

नुंग्शी-ताशी के पिता कर्नल वीएस मलिक ने बताया कि दोनों बहनों ने देश का नाम रोशन किया है। अपने पर्वतारोहण अभियान के लिए नुंग्शी-ताशी को भारत का सर्वोच्च एडवेंचर अवार्ड तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड मिल चुका है। इसके अलावा आइसलैंड में दोनों को लेफ एरिक्सन यंग एक्सप्लोरर्स अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है। फिलहाल दोनों बहनें एक किताब लिखने में जुटी हैं इसके साथ ही उनकी संस्था महिला सशक्तिकरण का काम भी कर रही है।   

 

Todays Beets: