Monday, April 23, 2018

Breaking News

   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||   रेलवे की 90 हजार नौकरियों के आवेदन की आज लास्ट डेट, दो करोड़ 80 लाख कर चुके हैं अप्लाई     ||   कांग्रेस में बड़ा बदलाव: जनार्दन द्विवेदी की छुट्टी, गहलोत बने नए AICC महासचिव     ||   भारत ने चीन की तिब्बत सीमा पर भेजे और सैनिक, गश्त भी बढ़ाई     ||   अब कॉल सेंटर की नौकरियों पर नजर, अमेरिकी सांसद ने पेश किया बिल     ||   ब्लूमबर्ग मीडिया का दावा, 2019 छोड़िए 2029 तक पीएम रहेंगे नरेंद्र मोदी     ||   फेसबुक को डेटा लीक मामले से लगा तगड़ा झटका, 35 अरब डॉलर का नुकसान     ||

सातवें वेतनमान को लेकर अशासकीय काॅलेजों के शिक्षक सड़कों पर, मांगे पूरी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सातवें वेतनमान को लेकर अशासकीय काॅलेजों के शिक्षक सड़कों पर, मांगे पूरी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी

देहरादून। सातवें वेतनमान की मांग को लेकर प्रदेश कुछ डिग्री काॅलेज के शिक्षक सड़कों पर उतर गए हैं। अखिल भारतीय शिक्षक संघ के आह्वान पर उत्तरांचल विश्वविद्यालय महाविद्यालय के शिक्षक सामूहिक अवकाश पर रहे जिसकी वजह से उनकी आंतरिक परीक्षा भी प्रभावित हुई है। इस दौरान शिक्षकों ने सातवें वेतनमान को लागू करने की मांग भी उठाई। मांगे पूरी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

केन्द्र ने जारी की अधिसूचना

गौरतलब है कि गढ़वाल विश्वविद्यालय शिक्षक एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. वीपी सिंह व महामंत्री डॉ. डीके त्यागी ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से सातवां वेतनमान लागू करने के लिए अधिसूचना जारी की जा चुकी है इसके बावजूद देश में किसी भी राज्य में अभी इसे लागू नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि महासंघ की मांग है कि सातवां वेतनमान जल्द लागू किया जाए साथ ही पूर्व की विसंगतियों को दूर किया जाए। बता दें कि शिक्षकों ने केन्द्र सरकार द्वारा कम की गई सहायता को शत-प्रतिशत किया जाए। शिक्षकों ने कहा कि इस तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी और उन्होंने सरकार से उनकी मांगों पर जल्द कार्रवाई करने की मांग की है। अगर ऐसा नहीं होता है तो  महासंघ जल्द बड़े आंदोलन की रणनीति बनाएगा। 


ये भी पढ़ें - राज्य के झीलों और बांध में भी उतर सकता है सी-प्लेन, केन्द्रीय मंत्री ने दिया आश्वासन

 

Todays Beets: